भारतीय नागरिकता संशोधन बिल पर अमेरिकी धार्मिक आयोग ने जताई चिंता

भारतीय नागरिकता संशोधन बिल पर अमेरिकी धार्मिक आयोग ने जताई चिंता



अमेरिका के विदेश मंत्रालय ने भारत के नागरिकता संशोधन विधेयक पर चिंता जाहिर की है। सोमवार को यह विधेयक लोकसभा से पास हो गया। अमेरिका का कहना है कि नागरिकता संशोधन बिल के लिए कोई भी धार्मिक परीक्षण किसी राष्ट्र के लोकतांत्रिक मूल्यों के मूल सिद्धांत को कमजोर कर सकता है। 
अमेरिकी अंतरराष्ट्रीय धार्मिक स्वतंत्रता आयोग (यूएससीआईआरएफ) ने कहा कि नागरिकता संशोधन विधेयक 'गलत दिशा में बढ़ाया गया एक खतरनाक कदम' है और यदि यह भारत की संसद में पारित होता है तो भारतीय नेतृत्व के खिलाफ प्रतिबंध लगाया जाना चाहिए।


यूएससीआईआरएफ ने सोमवार को एक बयान में कहा कि विधेयक के लोकसभा में पारित होने से वह बेहद चिंतित है। लोकसभा ने सोमवार को नागरिकता संशोधन विधेयक (कैब) को मंजूरी दे दी, जिसमें अफगानिस्तान, बांग्लादेश और पाकिस्तान से धार्मिक प्रताड़ना के कारण 31 दिसंबर 2014 तक भारत आए हिन्दू, सिख, बौद्ध, जैन, पारसी और ईसाई समुदायों के लोगों को भारतीय नागरिकता के लिए आवेदन करने का पात्र बनाने का प्रावधान है।


आयोग ने कहा, 'यदि कैब दोनों सदनों में पारित हो जाता है तो अमेरिकी सरकार को भारतीय नेतृत्व के खिलाफ प्रतिबंध लगाने पर विचार करना चाहिए। पेश किए गए धार्मिक मानदंड वाले इस विधेयक के लोकसभा में पारित होने से यूएससीआईआरएफ बेहद चिंतित है।'


अमेरिकी अंतरराष्ट्रीय धार्मिक स्वतंत्रता आयोग की रिपोर्ट पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें:


नागरिकता संशोधन विधेयक के पक्ष में 311 मत और विरोध में 80 मत पड़े, जिसके बाद इसे लोकसभा से मंजूरी दे दी गई। अब इसे राज्यसभा में पेश किया जाएगा। गृह मंत्री अमित शाह ने नागरिकता संशोधन विधेयक को ऐतिहासिक करार देते हुए सोमवार को कहा था कि यह भाजपा के घोषणापत्र का हिस्सा रहा है तथा 2014 और 2019 के लोकसभा चुनाव में देश के 130 करोड़ लोगों ने नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में सरकार बनाकर इसकी मंजूरी दी है।


कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस और अन्य विपक्षी दलों ने हालांकि इसका विरोध किया। यूएससीआईआरएफ ने आरोप लगाया कि कैब आप्रवासियों के लिए नागरिकता प्राप्त करने का मार्ग प्रशस्त करता है हालांकि इसमें मुस्लिम समुदाय का जिक्र नहीं है। इस तरह यह विधेयक नागरिकता के लिए धर्म के आधार पर कानूनी मानदंड निर्धारित करता है।
 
 
 


Popular posts
सिंगरौली जिले में दो सड़क हादसे में महिला सहित दो की मौत, माँ -बेटे घायल परसौना तिराहे पर हाइवा ने सायकल चालक को रौंदा
Image
सिंगरौली जिले के कांग्रेश नेता भास्कर मिश्रा को अज्ञात लोगों ने बेहतरीन पीटा मामला दर्ज
Image
सिंगरौली जिले के देवसर विधायक श्री सुभाष रामचरित वर्मा जी के द्वारा आंगनवाड़ी भवन का लोकार्पण किया गया एवं में वृक्षा रोपण किया
Image
सिंगरौली पुलिस द्वारा पुलिस अधीक्षक कार्यालय, रक्षित केंद्र सहित सभी थानों में साफ-सफाई कर किया गया वृक्षारोपण कार्यक्रम
Image
सिंगरौली जिले के प्रभारी मंत्री श्री ब्रजेंद्र प्रताप सिंह ने शक्तिनगर स्थित मां ज्वालामुखी का दर्शन व पूजन कर लिया आशीर्वाद
Image