देहरादूनः खूनी फ्लाईओवर पर मौत का खेल रोकने को नहीं सूझ रहा उपाय, नहीं रुक रहे हादसे

देहरादूनः खूनी फ्लाईओवर पर मौत का खेल रोकने को नहीं सूझ रहा उपाय, नहीं रुक रहे हादसे




खास बातें



  • पहले आनन फानन में बनाए गए थे स्पीड ब्रेकर, फिर संख्या को किया आधा 

  • अब भी नहीं रुक रहे हादसे, विशेषज्ञों के अनुसार इसका कोई उपाय नहीं 



 

खूनी फ्लाईओवर पर मौत का खेल रोकने के लिए सरकारी सिस्टम को कोई उपाय नहीं सूझ रहा है। नतीजा यह है कि यहां हादसे रुकने का नाम नहीं ले रहे। बीते दिनों यहां स्पीड ब्रेकर बनाकर भी हादसे रोकने का प्रयास हुआ, लेकिन इनका भी कोई सकारात्मक परिणाम नहीं मिला। अब कुछ विशेषज्ञों का तो यहां तक कहना है कि इस बेढंगे फ्लाईओवर पर हादसे रोकने की कोई युक्ति नहीं है। लिहाजा, इसे दिन में निश्चित समय के लिए बंद रखा जाए।
 

 बल्लीवाला फ्लाईओवर बनने के बाद से ही विवादों में घिरा है। बनने के बाद से अब तक इस पर कई हादसे हो चुके हैं, जिनमें 16 लोगों की जान जा चुकी है। दरअसल, विवाद कुछ और नहीं बल्कि इसका डिजाइन ही इस पर हादसों का कारण बना है। फोर लेन सड़क (राष्ट्रीय राजमार्ग) पर यह फ्लाईओवर सब वे श्रेणी का बनाया गया, जिसकी चौड़ाई सामान्य सड़क से भी कम है।

इसको लेकर कई बार जांच की बातें भी उठीं, लेकिन नतीजा कुछ नहीं आया। समय पर अस्थाई जुगाड़ भी किए गए। पिछले दिनों यहां एक हादसे के बाद जब मुख्यमंत्री ने दौरा किया तो अगले ही दिन 17 जगह मल्टी स्पीड ब्रेकर बना डाले गए। लेकिन, इसका विरोध हुआ तो इनकी संख्या आधी कर दी गई। स्पीड ब्रेकर बने और उखड़े लेकिन हादसों पर लगाम नहीं लग सकी। अब फिलहाल इसके लिए कोई उपाय किसी के पास नहीं है। 

नौ घंटे तक बंद रखा जाए फ्लाईओवर 

हादसों को देखकर कुछ विशेषज्ञ भी इसके संबंध में अपनी राय रख रहे हैं। सिविल इंजीनियर जीडीएस वार्ने ने बताया कि उन्होंने इसके बारे में काफी रिसर्च की है। लेकिन, ऐसी कोई तकनीक उन्हें नहीं मिली जिससे इस फ्लाईओवर पर स्पीड को कम किया जा सके। क्योंकि, इसके डिजाइन में ही बड़ी खामी है। ऐसे में सिर्फ एक ही उपाय है जिससे कुछ हद तक हादसों पर रोक लगाई जा सकती है। वह है कि इसे रात नौ बजे से सुबह छह बजे तक बंद रखा जाए। कारण है कि देर रात ही यहां पर हादसे होते हैं। 

Popular posts
ब्रेकिंग न्यूज़ - एस वी एस उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के संस्थापक श्री वीरेंद्र सिंह यादव का हुआ निधन पूरा परिवार एवं ग्रामीण वासी शोकाकुल
Image
लॉकडाउन में दाने दाने को मोहताज मजदूर और ठेकेदार पत्नी का जेवर बेच भर रहे बच्चों का पेट
Image
एस्सार पवार प्लांट के अधिकारियों के द्वारा ठेकेदारों को दी जा रही है धमकी
Image
ब्रेकिंग न्यूज़ -रानी पाल को प्रधान देखने के लिए लोगों ने भगवान से की मनोकामनाएं
Image
उत्तर प्रदेश में 24 मई तक बढ़ाया गया कोरोना कर्फ्यू, मंत्रिपरिषद की बैठक में फैसला
Image