एनपीआर को मोदी कैबिनेट की मंजूरी, जानें कैसे होगी नागरिकों की गिनती

एनपीआर को मोदी कैबिनेट की मंजूरी, जानें कैसे होगी नागरिकों की गिनती



राष्ट्रीय जनसंख्या पंजी (एनपीआर) में अपडेट के लिए धन आवंटन के प्रस्ताव पर मोदी कैबिनेट ने मुहर लगा दी है। सूत्रों के अनुसार, इसके लिए 8700 करोड़ रुपये का बजट तय किया गया है। एनपीआर के तहत 1 अप्रैल, 2020 से 30 सितंबर, 2020 तक नागरिकों का डेटाबेस तैयार करने के लिए देशभर में घर-घर जाकर जनगणना की तैयारी है। देश के सामान्य निवासियों की व्यापक पहचान का डेटाबेस बनाना एनपीआर का मुख्य लक्ष्य है। इस डेटा में जनसांख्यिकी के साथ बायोमीट्रिक जानकारी भी होगी। एनपीआर अपडेट करने की प्रक्रिया अगले साल पहली अप्रैल से शुरू होने वाली है।


 

 


Popular posts
माड़ा पुलिस ने अवैध रेत परिवहन करते तीन ट्रैक्टरों को किया जप्त। 
Image
वेस्ट की जेलों में चल रहे खुलेआम मोबाइल- शासन प्रशासन मौन 
Image
बीजेपी में शामिल हुए पूर्व टीएमसी सांसद दिनेश त्रिवेदी,घुटन का आरोप लगा राज्यसभा से दिया था इस्तीफा
Image
जौनपुर। क्षेत्राधिकारी विजय सिंह के नेतृत्व में नगर में हुआ पुलिस का फ्लैगमार्च
Image
जौनपुर। युवक के ब्लाइंड मर्डर की किया खुलासा, पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार कर भेजा जेल
Image