गोरखपुर में न होती हिंसा, अगर ये 5 सबूत नजरअंदाज न करती पुलिस, एकलौती गलती ले डूबी

गोरखपुर में न होती हिंसा, अगर ये 5 सबूत नजरअंदाज न करती पुलिस, एकलौती गलती ले डूबी




नागरिकता संशोधन कानून को लेकर गोरखपुर में आज हुए हिंसक प्रदर्शन को रोका जा सकता है, अगर गोरखपुर पुलिस ने पहले से संजीदगी दिखाई होती। सर्तकता के नाम पर थानों पर बैठक की गई पर प्रशासनिक व पुलिस अफसर मौके को भाप नहीं पाए।

शहर में गश्त कर मौका मुआयना भी जैसे बंद आंखों से ही किया गया। प्रबुद्ध लोगों पर विश्वास करना भी पुलिस को भारी पड़ा। ऐसा अचानक नहीं हुआ, इस प्रदर्शन की तैयारी पहले से की गई थी। आगे की स्लाइड में देखिए पुलिस से कहां हुई चूक और पुलिस की किस गलती का परिणाम थी गोरखपुर में हिंसा...


.


Popular posts
सिंगरौली जिले के नदी के तेज बहाव में 4 लोग बहे 2 की मौत रेस्क्यू जारी है
Image
सिंगरौली में घर से बाहर जंगल में 14 वर्षीय युवती ने लगाई फांसी,क्षेत्र में मचा हड़कंप
Image
सिंगरौली जिले के चौरा चौकी सड़क दुर्घटना में एक की मौत एक घायल,घायल व्यक्ति को सिंगरौली पुलिस ने पहुंचाया अस्पताल
Image
प्रेमी ने पहले रेप किया,फिर मंदिर में शादी,बस 1 घंटे की दुल्हन बनकर रह गई लड़की,आगरा के सिकंदरा चौराहा स्थित होटल में एक लड़की से रेप का मामला सामने आया है
Image
जिला सिंगरौली सरई थाना 23 वर्षीय युवक की हत्या से गाँव में फैल गई है सनसनी
Image