नागरिकता संशोधन विधेयक के विरोध में पूर्वोत्तर भारत में बंद, असम में आगजनी

नागरिकता संशोधन विधेयक के विरोध में पूर्वोत्तर भारत में बंद, असम में आगजनी


नागरिकता (संशोधन) विधेयक के खिलाफ छात्र संगठनों की तरफ से संयुक्त रूप से बुलाया गया 11 घंटे का बंद मंगलवार सुबह पांच बजे शुरू हो गया। पूर्वोत्तर छात्र संगठन (एनईएसओ) ने इस विधेयक के खिलाफ शाम चार बजे तक बंद का आह्वान किया है। कई अन्य संगठनों और राजनीतिक दलों ने भी इसे अपना समर्थन दिया है। इस बंद के आह्वान के मद्देनजर असम, अरुणाचल प्रदेश, मेघालय, मिजोरम और त्रिपुरा में सुरक्षा बढ़ा दी गई है। नगालैंड में चल रहे हॉर्नबिल महोत्सव की वजह से राज्य को बंद के दायरे से बाहर रखा गया है।



Popular posts
14 वर्षीय नाबालिग लड़की का अपहरण कर 14 दरिंदो ने 48 घंटे तक किया बलात्कार, लड़की की मां ने कहा बेटी बनना चाहती थी अफसर
Image
शेख हारून अली के नेतृत्व में प्रदेश अध्यक्ष समाजवादी पार्टी नरेश उत्तम का हुआ जोरदार स्वागत
Image
सिंगरौली जिले के कांग्रेश नेता भास्कर मिश्रा को अज्ञात लोगों ने बेहतरीन पीटा मामला दर्ज
Image
सिंगरौली जिले के प्रभारी मंत्री श्री ब्रजेंद्र प्रताप सिंह ने शक्तिनगर स्थित मां ज्वालामुखी का दर्शन व पूजन कर लिया आशीर्वाद
Image
प्रदेश सरकार के द्वारा मुर्गी पालन के साथ ही बकरी पालन को भी दे बड़ावा :- प्रभारी मंत्री श्री सिंह
Image