नागरिकता संशोधन विधेयक के विरोध में पूर्वोत्तर भारत में बंद, असम में आगजनी

नागरिकता संशोधन विधेयक के विरोध में पूर्वोत्तर भारत में बंद, असम में आगजनी


नागरिकता (संशोधन) विधेयक के खिलाफ छात्र संगठनों की तरफ से संयुक्त रूप से बुलाया गया 11 घंटे का बंद मंगलवार सुबह पांच बजे शुरू हो गया। पूर्वोत्तर छात्र संगठन (एनईएसओ) ने इस विधेयक के खिलाफ शाम चार बजे तक बंद का आह्वान किया है। कई अन्य संगठनों और राजनीतिक दलों ने भी इसे अपना समर्थन दिया है। इस बंद के आह्वान के मद्देनजर असम, अरुणाचल प्रदेश, मेघालय, मिजोरम और त्रिपुरा में सुरक्षा बढ़ा दी गई है। नगालैंड में चल रहे हॉर्नबिल महोत्सव की वजह से राज्य को बंद के दायरे से बाहर रखा गया है।



Popular posts
नदी नहाने गए लड़के की डुबने से हुई मौत-
Image
बकरी चराने गए व्यक्ति के ऊपर भालू ने किया अटैक दूसरे दिन मिला मृतक का डेड बॉडी क्षेत्रीय वासी भालू से परेशान
Image
मुहम्मदपुर फेटी कि घटना का अभी तक नहीं हुआ खुलासा,खुली आंख वाले प्रशासन ने वादी को अन्धा दिखाकर निर्दोष पत्रकार को भेजा गया जेल प्रशासन ने मौके की विवेचना करना जरूरी नहीं समझा
Image
उत्तर प्रदेश सरकार की महत्वाकांक्षी स्वामित्व योजना के तहत आज ग्रामीणों को घरौनियों का किया गया वितरण
Image
कंपनी प्रबंधन व प्रशासन की तानाशाही ,महिलाओं ने संभाला मोर्चा,मौके पर भारी संख्या में पुलिस बल के साथ एसडीएम व तहसीलदार
Image