नागरिकता संशोधन विधेयक के विरोध में पूर्वोत्तर भारत में बंद, असम में आगजनी

नागरिकता संशोधन विधेयक के विरोध में पूर्वोत्तर भारत में बंद, असम में आगजनी


नागरिकता (संशोधन) विधेयक के खिलाफ छात्र संगठनों की तरफ से संयुक्त रूप से बुलाया गया 11 घंटे का बंद मंगलवार सुबह पांच बजे शुरू हो गया। पूर्वोत्तर छात्र संगठन (एनईएसओ) ने इस विधेयक के खिलाफ शाम चार बजे तक बंद का आह्वान किया है। कई अन्य संगठनों और राजनीतिक दलों ने भी इसे अपना समर्थन दिया है। इस बंद के आह्वान के मद्देनजर असम, अरुणाचल प्रदेश, मेघालय, मिजोरम और त्रिपुरा में सुरक्षा बढ़ा दी गई है। नगालैंड में चल रहे हॉर्नबिल महोत्सव की वजह से राज्य को बंद के दायरे से बाहर रखा गया है।



Popular posts
ब्रेकिंग न्यूज़ - एस वी एस उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के संस्थापक श्री वीरेंद्र सिंह यादव का हुआ निधन पूरा परिवार एवं ग्रामीण वासी शोकाकुल
Image
ब्रेकिंग न्यूज़ -रानी पाल को प्रधान देखने के लिए लोगों ने भगवान से की मनोकामनाएं
Image
लॉकडाउन में दाने दाने को मोहताज मजदूर और ठेकेदार पत्नी का जेवर बेच भर रहे बच्चों का पेट
Image
जनपद एटा में लिफ्ट देने के बहाने से यात्रियों के साथ तमंचा दिखाकर लूट की वारदात को दिया अंजाम
Image
एस्सार पवार प्लांट के अधिकारियों के द्वारा ठेकेदारों को दी जा रही है धमकी
Image