नहीं रहे अलीगढ़ के अंतिम स्वतंत्रता सेनानी आफताब अहमद खां, अंग्रेजों को चकमा देने में थे माहिर

नहीं रहे अलीगढ़ के अंतिम स्वतंत्रता सेनानी आफताब अहमद खां, अंग्रेजों को चकमा देने में थे माहिर



 


स्वतंत्रता संग्राम सेनानी आफताब अहमद खां का बुधवार को अलीगढ़ के अतरौली में इंतकाल हो गया। पैर में तकलीफ के चलते वह कई दिन से जेएन मेडिकल कॉलेज में भर्ती थे। बुधवार सुबह 7:30 बजे उन्होंने अंतिम सांस ली। उनके निधन से क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ गई है। पूरे राजकीय सम्मान के साथ अतरौली के पुराना रामघाट रोड स्थित कब्रिस्तान में उनके शव को सुपुर्द ए खाक किया गया। 
 

पूर्व सांसद चौ. विजेंद्र सिंह और पूर्व विधायक वीरेश यादव ने पहुंचकर श्रद्धांजलि अर्पित की। नायब तहसीलदार दिनेश शर्मा, एसएसआई रितेश कुमार, एसआई रवेंद्र सिंह के साथ पुलिस टीम ने उनके शव पर तिरंगा ओढ़ाया और सलामी दी गई।

कौन थे आफताब अहमद खां?


अतरौली कस्बे के मोहल्ला चौधरियान निवासी आफताब अहमद खां पुत्र शेर मोहम्मद खान का जन्म 10 जनवरी, 1925 को हुआ था। उन्होंने महात्मा गांधी के साथ देश की आजादी में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। 10 साल के थे तभी अंग्रेज सैनिकों ने उनका घर ढहा दिया था। खेतों में खड़ी फसल बर्बाद कर दी थी।

Popular posts
बकरी चराने गए व्यक्ति के ऊपर भालू ने किया अटैक दूसरे दिन मिला मृतक का डेड बॉडी क्षेत्रीय वासी भालू से परेशान
Image
ब्रेकिंग न्यूज़- नवावगंज फर्रूखाबाद जाने कब सुधरेगी नवावगंज थाना पुलिस की रवैया कब मिलेगा गरीबो को न्याय
Image
उत्तर प्रदेश सरकार की महत्वाकांक्षी स्वामित्व योजना के तहत आज ग्रामीणों को घरौनियों का किया गया वितरण
Image
श्री नवरतन कुमार दुबे जी को भारतीय नौजवान इंकलाब पार्टी के राष्ट्रीय संगठन सचिव एवं राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी के पद पर दिलाया गया सदस्यता
Image
सिंगरौली जिले में 4 दिनों से जारी है सिंगरौली पुलिस की वार्षिक शस्त्र फायरिंग,अब तक 250 जवानों की करायी गयी फायरिंग
Image