Mahatma Gandhi Death Anniversary: ..जब मौत के कुहासे ने शाम में ही पूरे देश को स्याह कर दिया

Mahatma Gandhi Death Anniversary: ..जब मौत के कुहासे ने शाम में ही पूरे देश को स्याह कर दिया


30 जनवरी 1948 का दिन कहने को तो साल के बाकी दिनों जैसा ही था, लेकिन शाम होते होते यह इतिहास में सबसे दुखद दिनों में शुमार हो गया। दरअसल 30 जनवरी 1948 की शाम को नाथूराम गोडसे ने महात्मा गांधी की जान ले ली।


विडम्बना देखिए कि अहिंसा को अपना सबसे बड़ा हथियार बनाकर अंग्रेजों को देश से बाहर का रास्ता दिखाने वाले महात्मा गांधी खुद हिंसा का शिकार हुए। वह उस दिन भी रोज की तरह शाम की प्रार्थना के लिए जा रहे थे।

उसी समय गोडसे ने उन्हें बहुत करीब से गोली मारी और साबरमती का संत ‘हे राम’ कहकर दुनिया से विदा हो गया। अपने जीवनकाल में अपने विचारों और सिद्धांतों के कारण चर्चित रहे मोहन दास करमचंद गांधी का नाम उनकी मृत्यु के बाद दुनियाभर में कहीं ज्यादा इज्जत और सम्मान से लिया जाता है।


Popular posts
कांग्रेस के पार्षद प्रत्याशियों के समर्थन में मप्र कांग्रेस कमेटी के प्रदेश अध्यक्ष तथा पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने सिंगरौली के रामलीला मैदान में विशाल जनसभा को सम्बोधित करते हुये मप्र की शिवराज सरकार को आड़े हाथों लिया
Image
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का एक ऐसा भक्त जिसने 2022 चुनाव जिताने का और योगी महाराज को गद्दी पर बैठाने का लिया था संकल्प और मांगी थी मन्नत तो कैसे पूरा किया अपना संकल्प और मन्नत
Image
अदाणी फाउंडेशन ने लगाया रक्तदान शिविर, कंपनी के 30 अधिकारियों और कर्मचारियों ने लिया हिस्सा,किया रक्तदान,रक्तदाताओं को प्रशस्ति पत्र व प्रतीक चिह्न देकर किया सम्मानित
Image
जनपद मिर्जापुर थाना कोतवाली कटरा क्षेत्र अंतर्गत दुर्गा बाजार के पास युवक की हत्या की घटना कारित करने वाले 06 अभियुक्त हुए गिरफ्तार
Image
मंगलवार को घर से सज धज कर बारात के लिए कोयलखुथ गए‌ 20 वर्षीय युवक मिथिलेश कुमार नाई की कुआं से शव मिलने के बाद क्षेत्र में सनसनी का माहौल है
Image