आईआईटी से कम नहीं एलपीयू, जानिए कैसे

आईआईटी से कम नहीं एलपीयू, जानिए कैसे



भारतीय शिक्षा के क्षेत्र में अलग व विशेष ढंग से उभरकर सामने आया लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी (LPU) देश का एक ऐसा विशिष्ट संस्थान हैं, जो इंजीनियरिंग की पढ़ाई के लिए किसी भी तरह भी प्राप्त से आईआईटी से कम नहीं है। यह न केवल इंजीनियरिंग अपितु अन्य प्रोग्रामों के लिए भी श्रेष्ठ संस्थान है। एलपीयू की सबसे बड़ी ताकत है इसके विद्यार्थियों की बेहतरीन प्लेसमेंट्स।


 

अपनी इसी क्वालिटी के चलते और इसी तर्ज पर यूनिवर्सिटी में बीटेक कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग की तृतीय वर्ष की होनहार छात्रा तान्या अरोड़ा को, बीते वर्ष 2019 के अंत में, टॉप कम्पनी माइक्रोसॉफ्ट में 42 लाख रुपये की जॉब मिली। जबकि अभी उसने अपनी पढ़ाई भी पूरी नहीं की है। साल 2019 में यह इंजीनियरिंग के क्षेत्र में किसी भी फ्रेशर को मिलने वाला सबसे बड़ा ऑफर है। इस तरह पिछले तीन वर्षों से लगातार एलपीयू ने अपने विद्यार्थियों की रिकॉर्ड प्लेसमेंट देखी है और अब तान्या को मिले ऑफर से एलपीयू ने उत्तर भारत में प्लेसमेंट रिकॉर्ड में एक और सितारा जड़ा है।

अपनी जन्मस्थली देहरादून से कोसों दूर आकर एलपीयू में पढ़ाई को प्राथिमकता देने वाली तान्या अरोड़ा गर्व से बताती है कि उसे मिली सफलता का श्रेय एलपीयू, इसके टीचर्स व स्पेशल मेंटर्स को ही जाता है, जो अपने बेहतर प्रयासों व ट्रेनिंग्स से सभी विद्यार्थियों का शिखर पर पहुंचने के प्रति कुशल मार्गदर्शन करते हैं। मेरे माता-पिता और मेरा एलपीयू में एडमिशन लेने का निर्णय कितना सार्थक रहा है, वह आज सबके सामने है। असल में जिस तरह इस बार तान्या अरोड़ा को बेहतरीन अवसर प्राप्त हुआ है, उसी तरह एलपीयू में एडवांस शिक्षा प्रणाली के चलते तान्या की तरह ही अन्य कई विद्यार्थियों को भी कई उल्लेखनीय प्लेसमेंट के अवसर मिलते रहते हैं।


Popular posts
ग्राम पंचायत क्षेत्र हरदी में सरपंच सचिव और रोजगार सचिव मिलकर फर्जी मास्टर रोल भर कर सारे मजदुर का पैसा हरण किया जा रहा है
Image
सोसल मीडिया पर महिला बनकर ब्लैकमेल करने वाला 15 वर्षीय हैकर को मोरवा पुलिस ने किया गिरफ्तार।
Image
मध्य प्रदेश कुआं दर्दनाक हादसा एक बच्चे को बचाने के दौरान कुएं में गिरे 30 से ज्यादा लोग, 13 साल के बच्चे को बचाने में बड़ा हादसा, कुआं धंसा, 5 लोगों की मौत, 9 लापता
Image
निगरी पुलिस ने सास और देवर से प्रताड़ित होकर पीड़िता ने लगाई थी फांसी अब दोनों को पहुचाया सलाखों के पीछे
Image
सिंगरौली जिले से जयंत उप चेक पोस्ट बना अवैध वसूली का अड्डा, मालवाहको और बड़े वाहनों से लिया जाता है मोटी रकम
Image