कोरोनावायरस : वुहान से भारतीयों को निकालने के लिए आज फिर रवाना होगा एक विमान

कोरोनावायरस : वुहान से भारतीयों को निकालने के लिए आज फिर रवाना होगा एक विमान



कोरोनावायरस के कहर से चीन में हाहाकार मचा हुआ है। इस खतरनाक वायरस से चीन में अबतक 259 लोगों की मौत हो गई है और 11,791 लोग संक्रमित हैं। यहां रहने वाले दूसरे देश के नागरिक शहर छोड़कर अपने देश लौटना चाह रहे हैं। इसी बीच भारत ने भी अपने नागरिकों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए उन्हें एयरलिफ्ट करने का फैसला लिया। एअर इंडिया ने कहा कि वुहान से भारतीयों को निकालने के लिए एक और विमान शनिवार दोपहर 12 बजकर 50 मिनट पर दिल्ली हवाईअड्डे से रवाना होगा।


 

एअर इंडिया के प्रवक्ता ने शनिवार को कहा कि एक अन्य विमान आज दोपहर 12 बजकर 50 मिनट पर दिल्ली से वुहान के लिए रवाना होगा जिसमें डॉक्टरों की टीम वही होगी लेकिन चालक दल के सदस्य और विमान अलग होगा। बचाव टीम की अगुवाई एक बार फिर एअर इंडिया के परिचालन निदेशक, कैप्टन अमिताभ सिंह करेंगे।


दूतावास ने जारी किया नंबर


दूतावास ने ट्वीट किया, जो भारतीय हुबेई प्रांत से फिलहाल देश लौटना चाहते हैं और अभी तक इसके लिए संपर्क नहीं किया है, वे एक फरवरी 2020 को सुबह आठ बजे से पहले +8618610952903, +8618612083629 हॉटलाइनों पर कॉल करें या हेल्पडेस्कड डॉट बीजिंग एट द रेट आफ एमईए डॉट जीओवी डॉट इन पर मेल करें।

वहीं शनिवार सुबह 7.26 बजे एयर इंडिया के विशेष विमान बोइंग 747 से वुहान से 324 भारतीय यात्रियों का पहला जत्था दिल्ली पहुंच चुका है। बोइंग 747 जंबो विमान ने शनिवार तड़के वुहान के तियान्हे अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे से उड़ान भरी थी और सुबह 7:26 बजे दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर उतरा। 324 यात्रियों में तीन नाबालिग, 211 छात्र और 110 पेशेवर शामिल हैं। इन्हें दिल्ली में भारत-तिब्बत सीमा पुलिस, छावला शिविर और हरियाणा के मानेसर में भारतीय सेना शिविर में 14 दिनों के लिए आइसोलेशन वार्ड में रखा जाएगा।

आईटीबीपी ने बताया कि 324 भारतीयों में से 95 को हवाई अड्डे से छावला कैंप, दिल्ली में मेडिकल ऑब्जर्वेशन के लिए ले जाया गया है। चीनी अधिकारियों ने स्क्रीनिंग के दौरान उच्च तापमान की सूचना के बाद छह भारतीयों को नहीं आने दिया। एक यात्री ने बताया कि उच्च तापमान की वजह से उन्हें विमान से उतार दिया गया था। 


बता दें कि शुक्रवार को दिल्ली से दोपहर दोपहर एक बजकर 20 मिनट पर वुहान हवाईअड्डे के लिए रवाना किया गया था। जिसमें राम मनोहर लोहिया अस्पताल के पांच डॉक्टरों की टीम, एक पैराचिकित्सक, कॉकपिट चालक दल के पांच सदस्य और कैबिन चालक दल के 15 सदस्य थे। एअर इंडिया के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक अश्वनी लोहानी ने कहा कि विमान में यात्रियों को किसी तरह की सेवा नहीं दी जाएगी। जो भी खाद्य पदार्थ होंगे वह सीट पॉकेट में रखे होंगे। चालक दल के सदस्यों और यात्रियों के बीच बातचीत भी नहीं होगी। उन्होंने कहा कि चालक दल के सदस्यों और यात्रियों के लिए मास्क का प्रबंध किया गया है। हमने चालक दल के सदस्यों के लिए सुरक्षा कवच का भी प्रबंध किया है।


Popular posts
नदी नहाने गए लड़के की डुबने से हुई मौत-
Image
बकरी चराने गए व्यक्ति के ऊपर भालू ने किया अटैक दूसरे दिन मिला मृतक का डेड बॉडी क्षेत्रीय वासी भालू से परेशान
Image
मुहम्मदपुर फेटी कि घटना का अभी तक नहीं हुआ खुलासा,खुली आंख वाले प्रशासन ने वादी को अन्धा दिखाकर निर्दोष पत्रकार को भेजा गया जेल प्रशासन ने मौके की विवेचना करना जरूरी नहीं समझा
Image
उत्तर प्रदेश सरकार की महत्वाकांक्षी स्वामित्व योजना के तहत आज ग्रामीणों को घरौनियों का किया गया वितरण
Image
कंपनी प्रबंधन व प्रशासन की तानाशाही ,महिलाओं ने संभाला मोर्चा,मौके पर भारी संख्या में पुलिस बल के साथ एसडीएम व तहसीलदार
Image