आउटसोर्सिंग कंपनियां लोगो की जान से कर रही खिलवाड़ नही है कोरोना वायरस का डर प्रधानमंत्री के आदेश की उड़ा रही है धज्जियां प्रसाशन बना मूकदर्शक

आउटसोर्सिंग कंपनियां लोगो की जान से कर रही खिलवाड़ नही है कोरोना वायरस का डर प्रधानमंत्री के आदेश की उड़ा रही है धज्जियां प्रसाशन बना मूकदर्शक


आर.वी न्यूज जिला ब्यूरो चीफ विवेक पाण्डेय,संवाददाता करुना शर्मा



मध्यप्रदेश सिंगरौली एक ओर जहाँ पुरा भारत देश के साथ साथ पुरा विश्व कोरोना वायरस जैसी महामारी से लड़ रहा है अपने देश के लोगो की जान बचाने मे हर तरह से प्रयास कर रहा है वही एनसीएल मे आउटसोर्सिंग का कार्य कर रही कंपनियां अपने फायदे के लिए ऐसे लोगो के जान के साथ खिलवाड़ कर रही जैसे इनको इस महामारी के बारे मे कुछ पता ही ना हो।एक ओर जहाँ देश के प्रधानमंत्री ने नरेन्द्र मोदी ने पुरे देश मे एक साथ लॉकडाउन का आदेश दिया है और अपने घर मे रहने को कहा है कि जिससे लोगो को इस महामारी से दुर रखा जाए।लेकिन आउटसोर्सिंग कंपनियां बीजीआर,वीपीआर, डीबीएल, आदि कई कंपनियां जो एक शिफ्ट बस मे 50 से 60 आदमी बैठाकर ले जा रही हैऔर अपना कार्य करवा रही।जबकि इनको ए भी नही मालूम कि कम से कम एक मीटर की दुरी होनी चाहिए।


कंपनी वालो पर प्रशासन मेहरबान 


एनसीएल मे कार्य कर रही आउटसोर्सिंग कंपनियों पर सिंगरौली प्रशासन मेहरबान है, क्योंकि एक ओर जहां आम आदमी के साथ सख्ती एवं कड़ाई बरती जा रही है वही इन कंपनियों पर प्रशासन मौन बना है जैसे कुछ दिखाई ही न देता हो।


फायदे के चक्कर मे हो सकता है बड़ा हादसा


आउटसोर्सिंग कंपनियां अपने फायदे के लिए लगातार अपना कार्य करवा रही मजदूर भी इसी कारणवश ड्यूटी पर जाने को मजबूर हो जाते है अगर यही हॉल रहा तो कोरोना वायरस जैसी महामारी को सिंगरौली मे फैलते देर नही लगेगा।
मजदूरों के परिवार वालो ने प्रशासन से गुहार लगायी है कि जल्द से जल्द आउटसोर्सिंग कंपनियों को बंद कर लॉक डाउन किया जाये।


Popular posts
सिंगरौली जिले में कोयला मंत्री प्रह्लाद जोशी का एनसीएल दौरा
Image
सिंगरौली जिले के एनटीपीसी पावर प्लांट में एक अधेड़ उम्र के व्यक्ति की पानी के चैनल में गिरने से मौत
Image
21 अक्टूबर से 23 अक्टूबर तक जिले के सभी वन ग्राम समितियो की बैठक होगी आयोजित वन अधिकार सामुदायिक एवं व्यक्तिगत दावो का बैठक के दौरान किया जायेगा निराकरणः-कलेक्टर
Image
मुहम्मदपुर फेटी कि घटना का अभी तक नहीं हुआ खुलासा,खुली आंख वाले प्रशासन ने वादी को अन्धा दिखाकर निर्दोष पत्रकार को भेजा गया जेल प्रशासन ने मौके की विवेचना करना जरूरी नहीं समझा
Image
बकरी चराने गए व्यक्ति के ऊपर भालू ने किया अटैक दूसरे दिन मिला मृतक का डेड बॉडी क्षेत्रीय वासी भालू से परेशान
Image