भारतीय क्रिकेट टीम में हो सकते हैं बड़े बदलाव, कप्तान विराट कोहली ने दिए संकेत

भारतीय क्रिकेट टीम में हो सकते हैं बड़े बदलाव, कप्तान विराट कोहली ने दिए संकेत



       Virat Kohli ने टीम इंडिया में बड़े बदलाव के संकेत दिए हैं लेकिन ये बल्लेबाजी में नहीं गेंदबाजी में होगा।


नई दिल्ली, जेएनएन। न्यूजीलैंड के हाथों टेस्ट सीरीज हारने के तुरंत बाद भारतीय कप्तान विराट कोहली ने इस हार का ठीकरा अपने बल्लेबाजों के सिर पर फोड़ा था और अपने गेंदबाजों की तारीफ की थी। हालांकि, उन्होंने यह भी कहा था कि उनके गेंदबाज लंबे समय तक सही लाइन व लेंथ के साथ गेंदबाजी नहीं कर पाए। फिर भी इस सीरीज में भारतीय बल्लेबाजी क्रम बुरी तरह से नाकाम रहा था। यहां तक कि खुद कोहली भी चार पारियों में सिर्फ 38 रन ही बना पाए थे।


इसके एक दिन बाद ही मंगलवार को कोहली ने निकट भविष्य में टीम में बदलाव करने के संकेत दिए हैं, लेकिन ये बदलाव बल्लेबाजी क्रम में नहीं, बल्कि तेज गेंदबाजी विभाग में हो सकते हैं। कप्तान ने कहा है कि भारतीय तेज गेंदबाजों की बढ़ती उम्र के कारण टीम के थिंक टैंक ने निकट भविष्य में तेज गेंदबाजों की नई पीढ़ी तैयार करने की जरूरत महसूस की है।


भारतीय टीम सोमवार को जब क्राइस्टचर्च में दूसरा टेस्ट सात विकेट से हारी थी तो उसके बाद कोहली ने कहा था कि इस प्रदर्शन के लिए कोई बहाना नहीं है। टेस्ट मैचों में हम वैसा क्रिकेट नहीं खेल पाए जैसा खेलना चाहते थे। बल्लेबाजों ने इतने रन नहीं बनाए कि गेंदबाज प्रयास और आक्रमण करते। गेंदबाजी अच्छी थी, मुझे लगता है कि वेलिंगटन में भी हमने अच्छी गेंदबाजी की। पहले मैच में हम पर्याप्त जज्बा नहीं दिखा पाए, जबकि यहां हम मैच को खत्म नहीं कर पाए।


कोहली के इस बयान के बाद अंदाजा लगाया जा सकता था कि वह अपने बल्लेबाजों के प्रदर्शन से खुश नहीं हैं। लेकिन, 24 घंटे बीतने के साथ ही कोहली का नजरिया बदला है और वह इस हार के सबसे प्रमुख कारण को अपने तेज गेंदबाजों की बढ़ती उम्र के साथ जोड़कर देख रहे हैं। भारतीय टीम के प्रमुख तेज गेंदबाजों की बात करें तो जसप्रीत बुमराह के कई और वर्षो तक टीम के तेज गेंदबाजी आक्रमण की अगुआई करने की उम्मीद है, लेकिन इस साल 32 वर्ष के होने वाले इशांत शर्मा और 29 साल के मुहम्मद शमी पहले ही अपने खेल के शीर्ष पर पहुंच चुके हैं। इसके अलावा उमेश यादव भी इस साल 33 साल के हो जाएंगे।



बदलाव के लिए रहना होगा तैयार : अगले कुछ वर्षो की योजना को छिपाए बिना कोहली ने कहा, 'ये खिलाड़ी अब युवा नहीं होने वाले, इसलिए हमें बेहद सतर्क और जागरूक रहना होगा और स्वीकार करना होगा कि यह स्थिति है जिसका हमें सामना करना पड़ सकता है और हमारे पास ऐसे खिलाड़ी होने चाहिए जो उनकी जगह ले सकें।' इशांत का रिहैबिलिटेशन अच्छा नहीं रहा, जिसके कारण उनके टखने की चोट दोबारा उभर गई और पिछले दो साल में शमी पर पड़ा बोझ संकेत है कि शायद अगले दो साल में टीम को तेज गेंदबाजी विभाग में बदलाव के लिए तैयार रहना चाहिए।


योजना का हिस्सा : नई प्रतिभाओं पर ध्यान देने का संकेत देते हुए कोहली ने कहा, 'बड़ी तस्वीर देखें तो हमें यह पहचान करने की जरूरत है कि अगले तीन-चार खिलाड़ी कौन होंगे जो स्तर को बरकरार रख सकें क्योंकि आप नहीं चाहते कि अगर अचानक कोई बाहर हो जाए तो उसकी कमी महसूस हो। क्रिकेट में ऐसा ही होता है। समय-समय पर छोटे स्तर पर बदलाव के दौर का सामना करना पड़ता है और आपको इसकी जानकारी होनी चाहिए। ऐसा नहीं हो सकता कि आप किसी खिलाड़ी का इस्तेमाल करें और जब वह जाए तो आपके पास कोई विकल्प ही न हो।


उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि एक टीम के रूप में हमें पता है कि इस तरह की चीजें संभव हैं। कप्तान ने कहा कि नवदीप सैनी पहले ही टीम का हिस्सा हैं, जबकि दो या तीन और नाम हैं जो योजना का हिस्सा हैं। कोहली ने कहा, 'सैनी प्रणाली का हिस्सा बन चुका है। इसके अलावा दो या तीन और खिलाडि़यों पर हमारी नजर है। हमें सतर्क रहने की जरूरत है और समझना होगा कि इनसे (तेज गेंदबाजों से) हमें काफी सफलता मिली है और हमें यह सुनिश्चित करने की जरूरत है कि यह स्तर ऊंचा रहे।'


 



 


 


Popular posts
बीजेपी में शामिल हुए पूर्व टीएमसी सांसद दिनेश त्रिवेदी,घुटन का आरोप लगा राज्यसभा से दिया था इस्तीफा
Image
बड़ी ख़बर सीधी में बड़ा हादसा 38 लोगों की मृत्यु बस गिरी नहर में तकरीबन 55 यात्री बस मे सवार
Image
वेस्ट की जेलों में चल रहे खुलेआम मोबाइल- शासन प्रशासन मौन 
Image
फर्रुखाबाद-जिलाधिकारी ने सुनी तहसील दिवस(सम्पूर्ण दिवस ) में जनता की समस्या।शिकायती पत्रों के त्वरित निस्तारण के लिए दिये निर्देश
Image
माड़ा पुलिस ने अवैध रेत परिवहन करते तीन ट्रैक्टरों को किया जप्त। 
Image