शहीद लौटन निषाद की पत्नी को मिला चार लाख रुपये का चेक।

शहीद लौटन निषाद की पत्नी को मिला चार लाख रुपये का चेक।


संवाददाता सुबाष यादव प्रयागराज



प्रयागराज 8 जुलाई,2020 रिर्टन विश्वकाशी (RV NEWS LIVE) व्यूरो न्यूज- कैबिनेट मंत्री के मीडिया प्रभारी दिनेश तिवारी ने प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए बताया कि गत मंगलवार निज आवास पर शहर पश्चिमी विधायक व कैबिनेट मंत्री मा0 सिद्धार्थ नाथ सिंह द्वारा ग्राम बक्शी मोढ़ा प्रयागराज में तब्लीगी जमातियों पर टिप्पणी करने के कारण कट्टरपंथी बदमाशों के द्वारा शहीद हुये लौटन निषाद की बेवा पत्नी सविता निषाद को उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा घोषित सहायता राशि चार लाख रुपये का चेक प्रदान किया गया।


कैबिनेट मंत्री मा0 सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा मैंने चुनाव में गद्दी को रद्दी बनाने का संकल्प लिया था।विधानसभा शहर पश्चिमी में किसी भी भूमाफिया,लूट, हत्या आदि घटनाओं का अंजाम देने वाला अपराधी को बख्शा नहीं जायेगा। अपराधी को संरक्षण देने वालों पर शिकंजा पुलिस अधिकारी कस कर कठोर कार्यवाही करेगी।अपराधियों को संरक्षण देने वाले को बख्शा नहीं जाएगा,चाहे कोई भी बड़ा से बड़ा व्यक्ति या पुलिस का भेदिया हो सब पर योगी सरकार कठोर कार्यवाही से नहीं हिचकेंगी। अपराधियों को जेल की सलाखों के पीछे जाना होगा या शहर पश्चिमी छोड़कर चले जाय।आज शहर पश्चिमी का ऐतिहासिक पहचान विकास बन गया है।सविता निषाद के साथ मैं सदैव खड़ा रहूँगा।हर संभव मदद सरकार करेंगी।


इस मौके पर एडीएम नजूल, महानगर अध्यक्ष गणेश केसरवानी, मंडल अध्यक्ष ज्ञान बाबू केसरवानी, समाजसेवी जितेन्द्र बजरंगी, बक्शी मोढ़ा के ग्राम प्रधान मुबारक अली, लेखपाल प्रतीक पाण्डेय,लौटन निषाद के बड़े भाई बिरजू निषाद, समाजसेवी श्यामू भारतीया,धर्मेन्द्र निषाद इत्यादि लोग उपस्थित रहे !


Popular posts
स्कूल से कक्षा दसवीं का लापता छात्र स्कूल के पीछे तालाब में मिला लाश हत्या की आशंका क्षेत्र में फैली सनसनी
Image
प्रधानमंत्री जी ने नोयडा अन्तराष्ट्रीय विमानतल की रखी आधारशिला जो एशिया का सबसे बड़ा एयरपोर्ट होगा नोएडा इण्टरनेशनल एयरपोर्ट
Image
दर्दनाक हादसा ट्रैक्टर थ्रेसर मे धान डालते समय धान के साथ थ्रेसर में गया ट्रेक्टर ड्राइवर हुई मृत्यु
Image
परसौना मे भीषण सड़क हादसा हादसे में कार और आटो की जोरदार टक्कर हुई क्षतिग्रस्त
Image
बैढ़न तहसील में पदस्थ बाबू वह अधिवक्ता द्वारा फर्जी अंगूठा लगाकर दूसरे के नाम वसीयत करा लेने का मामला आया प्रकाश में
Image