सिलाई के हुनर से संवर रही ग्रामीण महिलाओं की जिंदगी, अदाणी फाउंडेशन ने दिए निःशुल्क सिलाई मशीन

सिलाई के हुनर से संवर रही ग्रामीण महिलाओं की जिंदगी, अदाणी फाउंडेशन ने दिए निःशुल्क  सिलाई मशीन

 विवेक कुमार पाण्डेय सह संपादक 



जिला सिंगरौली मध्य प्रदेश रिर्टन विश्वकाशी राष्ट्रीय हिन्दी मासिक समाचार पत्र (RV NEWS LIVE)/ सिंगरौली जिले के देवसर तहसील अन्तर्गत गोंडबहेरा उज्जैनी परियोजना के देवरा गांव में स्थानीय जरूरतमंद महिलाओं और किशोरियों को हुनरमंद बनाने और रोजगार के अवसर पैदा करने के उद्देश्य से निःशुल्क सिलाई प्रशिक्षण केंद्र की स्थापना की गई है। अदाणी फाउंडेशन की देखरेख में अदाणी स्किल डेवलपमेंट सेन्टर द्वारा प्रशिक्षण केंद्र में प्रथम बैच के लिए 20 स्थानीय महिलाओं और किशोरियों को दो महीने की सिलाई प्रशिक्षण के बाद प्रमाण पत्र दिया गया। प्रशिक्षण समापन कार्यक्रम के दौरान सभी प्रतिभागियों को अदाणी फाउंडेशन की तरफ से निःशुल्क सिलाई मशीन, प्रशिक्षण बैग और टी-शर्ट प्रदान किया गया। 

 

व्यवस्थित तरीके से महिलाओं को आत्मनिर्भर बना रहा अदाणी फॉउंडेशन: सरपंच

 


प्रशिक्षण के दौरान लाभार्थियों को सलवार, पेटीकोट, समीज, कुर्ती, पैंट, मैक्सी, बच्चों का ड्रेस,  कुर्ता, पायजामा और शर्ट तैयार करने के लिए विशेष तौर पर प्रशिक्षित किया गया। मंगलवार को इस प्रशिक्षण सत्र के समापन कार्यक्रम के दौरान देवरा के सरपंच श्री आशीष सिंह चंदेल ने कहा, "अदाणी फाउंडेशन की यह पहल अत्यन्त सराहनीय है और जिस व्यवस्थित तरीके से इस क्षेत्र में जरूरतमंद महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाया जा रहा है, उसकी उन्होंने कल्पना नहीं की थी।"  जबकि गोंडबहेरा उज्जैनी परियोजना के साइट हेड श्री कटला सुधीर ने उपस्थित ग्रामीणों को बताया, "अदाणी फाउंडेशन विभिन्न सामाजिक मुद्दों पर परियोजना क्षेत्र में लगातार काम कर रहा है, चाहे वह शिक्षा, स्वास्थ्य, सामुदायिक विकास अथवा ग्रामीण बुनियादी ढांचे से जुड़ा विषय हो।"


रोजगार बनेगा आर्थिक उन्नति का आधार


सिलाई की बारीकियां सिखाने के लिए ट्रेनर के तौर पर श्रीमती कविता देवी का चयन किया गया है। जल्द ही अदाणी स्किल डेवलपमेंट सेन्टर के द्वारा गोंडबहेरा उज्जैनी परियोजना के आसपास के अन्य गांवों उज्जैनी, तलवा, मझौली एवं तीनगुड़ी में भी बारी-बारी से स्थानीय जरूरतमंद महिलाओं को सिलाई का हुनर सिखाकर  उन्हें आत्मनिर्भर बनाया जायेगा। गौरतलब है कि प्रशिक्षण के बदौलत सक्षम बनी महिलाओं को रोजगार मिल सकेगा और वो अपने परिवार की आर्थिक उन्नति का आधार बन सकेंगी।


निःशुल्क सिलाई प्रशिक्षण केंद्र खुलने से ग्रामीणों में खुशी


निःशुल्क सिलाई प्रशिक्षण केंद्र खुलने से ग्रामीणों में काफी खुशी है और वो मानते हैं कि प्रशिक्षण प्राप्त महिलाओं और किशोरियों को किसी सिलाई उद्योग में नौकरी मिल सकती है या फिर खुद की सिलाई मशीन से पारिवारिक आय को बढ़ा सकती हैं और अपना भविष्य बेहतर कर सकती हैं। दूर-दराज के इलाकों में महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए अदाणी फाउंडेशन की देखरेख में अदाणी स्किल डेवलपमेंट सेन्टर द्वारा यह मुहिम चलाई जा रही है।


शिक्षा के क्षेत्र में भी कई सराहनीय कदम उठाये गए हैं, जिसमें सरकारी विद्यालयों में 'उत्थान' जैसे प्रोजेक्ट के माध्यम से नि:शुल्क सहयोग किया जा रहा है। अदाणी फाउंडेशन द्वारा इस क्षेत्र में कॉर्पोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व के तहत स्वरोजगार, स्वास्थ्य और शिक्षण से सम्बन्धित कई कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं, जिसका स्थानीय ग्रामीणों द्वारा स्वागत किया जा रहा है।

Popular posts
SINGER SHILPI RAJ MMS: का प्राइवेट वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है, जिसमें वो एक लड़के के साथ आपत्तिजनक हालत में दिखाई दे रही है
Image
पुलिस विभाग के आदेश को अंगूठा दिखाते हुए लोकायुक्त में मुकदमा दर्ज होने के बावजूद भी बने यातायात के टीआई
Image
नर्सिंग छात्रा अंधी हत्याकांड का पुलिस अधीक्षक सिंगरौली ने किया खुलासा। जीजा ही निकला हत्यारा अवैध संबंध बना कारण।
Image
अदाणी फाउंडेशन द्वारा बन्धौरा में स्वास्थ्य और बुनियादी ढांचे की नई सौगात
Image
अदाणी समूह के कर्मचारियों ने किया 718 यूनिट स्वैच्छिक रक्तदान
Image