राज्यसभा में नागरिकता विधेयक की अग्नि परीक्षा आज, यहां पारित हुआ तो बदलेगा कानून

राज्यसभा में नागरिकता विधेयक की अग्नि परीक्षा आज, यहां पारित हुआ तो बदलेगा कानून



 



खास बातें



  • शिवसेना की 'न' के बाद भी सरकार की राह आसान, संख्या बल समर्थन में

  • विपक्ष सरकार को वाकओवर देने के मूड में नहीं, करीब 20 संशोधन प्रस्तावित

  • बहुमत के लिए चाहिए 120 वोट, सरकार के पास 124, विपक्ष के पास 108

  • लोकसभा में विधेयक के समर्थन में पड़े 311 और विरोध में पड़े थे 80 मत



 

लोकसभा में पहली परीक्षा पास करने के बाद नागरिकता संशोधन बिल पर सरकार की अग्निपरीक्षा बुधवार को होगी। गृह मंत्री अमित शाह दोपहर दो बजे संशोधन बिल राज्यसभा में पेश करेंगे। इस बीच भाजपा संसदीय दल की बैठक शुरू हो गई है जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी शामिल हैं। वहीं लोकसभा में बिल का समर्थन करने वाली शिवसेना के यूटर्न और जदयू में खटपट के बाद हालांकि विपक्ष का हौसला बढ़ा है, मगर इसके बावजूद संख्या बल सरकार के साथ है। बिल पर राज्यसभा की मुहर लगते ही तीन पड़ोसी देशों के गैरमुस्लिम अल्पसंख्यकों की भारत की नागरिकता हासिल करने की राह आसान हो जाएगी।
 

सोमवार को सरकार ने प्रचंड समर्थन और विपक्ष में बिखराव की बदौलत बिल को आसानी से पारित करा लिया था। हालांकि उच्च सदन की तस्वीर दूसरी है। इस सदन में विपक्ष लोकसभा की तुलना में ज्यादा मजबूत है तो दूसरी तरफ सरकार को अपने दम पर बहुमत हासिल नहीं है। इस सदन में सरकार की सारी उम्मीदें लोकसभा में बिल का समर्थन करने वाले राजग के बाहर के दलों मसलन बीजेडी, वाईएसआर कांग्रेस के अलावा मनोनीत और निर्दलीय सांसदों पर टिकी है। इस बीच जदयू में बिल के समर्थन के सवाल पर शुरू हुई खटपट और शिवसेना के समर्थन के सवाल पर यूटर्न से विपक्ष को हौसला हासिल हुआ है।

Popular posts
ब्रेकिंग न्यूज़ - एस वी एस उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के संस्थापक श्री वीरेंद्र सिंह यादव का हुआ निधन पूरा परिवार एवं ग्रामीण वासी शोकाकुल
Image
ब्रेकिंग न्यूज़ -रानी पाल को प्रधान देखने के लिए लोगों ने भगवान से की मनोकामनाएं
Image
लॉकडाउन में दाने दाने को मोहताज मजदूर और ठेकेदार पत्नी का जेवर बेच भर रहे बच्चों का पेट
Image
जनपद एटा में लिफ्ट देने के बहाने से यात्रियों के साथ तमंचा दिखाकर लूट की वारदात को दिया अंजाम
Image
एस्सार पवार प्लांट के अधिकारियों के द्वारा ठेकेदारों को दी जा रही है धमकी
Image