राशन की दुकानों पर सस्ती दरों पर मिलें अंडे-मछली, नीति आयोग ने तैयार किया प्रस्ताव

राशन की दुकानों पर सस्ती दरों पर मिलें अंडे-मछली, नीति आयोग ने तैयार किया प्रस्ताव



जल्द ही राशन की दुकानों पर सस्ती दरों पर लोगों को अंडे, मछली, मुर्गा और मीट मिल सकता है। नीति आयोग एक प्रस्ताव तैयार कर रहा है, जिसका मकसद है कि गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले लोगों को सस्ते में प्रोटिन की खुराक मिल सके। यह प्रस्ताव अगले साल पेश होगा और हो सकता है कि पूरे देश में एक अप्रैल 2020 से लागू हो जाए। 


पीडीएस में मिल रहे खाद्यान की सूची बढ़ाना उद्देश्य


नीति आयोग के बड़े अधिकारियों के मुताबिक, राशन की दुकानों पर जो गेंहू, चावल, जौ, चना, दालें और चीनी मिलती है, उससे लोगों को उचित मात्रा में प्रोटिन की खुराक नहीं मिल पाती है। इसलिए गरीब लोगों को प्रोटिन की उचित खुराक मिल सके, इसके लिए यह प्रस्ताव तैयार किया गया है। 


इसलिए किया जाएगा जरूरी


इकोनॉमिक टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, नीति आयोग के सदस्य रमेश चंद्र ने कहा कि हर 10 में से चार बच्चों में प्रोटिन की कमी है। बच्चे ज्यादातर जंक फूड का सेवन कर रहे हैं, जिसमें तेल, चीनी और मसालों की भरमार है। हालांकि अगर राशन की दुकानों पर अंडे, मीट और मछली सस्ती दरों में मिलते हैं, तो इससे कुपोषण की समस्या से निपटा जा सकता है। हालांकि इससे खाद्यान पर मिल रही सब्सिडी का भार बढ़ सकता है। अभी सरकार को सस्ती


Popular posts
ब्रेकिंग न्यूज़ - एस वी एस उच्चतर माध्यमिक विद्यालय के संस्थापक श्री वीरेंद्र सिंह यादव का हुआ निधन पूरा परिवार एवं ग्रामीण वासी शोकाकुल
Image
ब्रेकिंग न्यूज़ -रानी पाल को प्रधान देखने के लिए लोगों ने भगवान से की मनोकामनाएं
Image
लॉकडाउन में दाने दाने को मोहताज मजदूर और ठेकेदार पत्नी का जेवर बेच भर रहे बच्चों का पेट
Image
एस्सार पवार प्लांट के अधिकारियों के द्वारा ठेकेदारों को दी जा रही है धमकी
Image
जनपद एटा में लिफ्ट देने के बहाने से यात्रियों के साथ तमंचा दिखाकर लूट की वारदात को दिया अंजाम
Image