यूपी विधानमंडल सत्र: तीन दिन में सिर्फ 7:37 मिनट चली सदन की कार्यवाही, अनिश्चितकाल के लिए स्थगित

यूपी विधानमंडल सत्र: तीन दिन में सिर्फ 7:37 मिनट चली सदन की कार्यवाही, अनिश्चितकाल के लिए स्थगित



उत्तर प्रदेश विधानमंडल के शीतकालीन सत्र की कार्यवाही बृहस्पतिवार को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दी गई। 17 दिसंबर से शुरू हुए सत्र की कार्यवाही बीते तीन दिनों में सिर्फ सात घंटे 37 मिनट तक ही चली। सदन को 20 दिसंबर तक चलना था।


 

बृहस्पतिवार को सुबह 11 बजे सदन की कार्यवाही शुरू हुई। 11:31 बजे विधानसभा अध्यक्ष ने कार्यवाही स्थगित कर दी। इसके पहले नागरिकता संशोधन कानून को लेकर सपा कार्यकर्ताओं ने विधानभवन में चौधरी चरण सिंह की प्रतिमा के पास विरोध प्रदर्शन करते हुए नारेबाजी की।

सपा कार्यकर्ताओं ने देश में इमरजेंसी जैसे हालात होने की बात कही। कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था ध्वस्त हो चुकी है। पूरे देश में इमरजेंसी जैसे हालात हैं।

वहीं, कांग्रेस ने महिला सुरक्षा के मुद्दे पर सरकार को घेरा और कहा कि सरकार कहती है कि प्रदेश में कानून व्यवस्था में सुधार हुआ है जबकि अपराधों की बाढ़ आई हुई है। कानून व्यवस्था के मुद्दे पर सरकार पूरी तरह से फेल है।


Popular posts
14 वर्षीय नाबालिग लड़की का अपहरण कर 14 दरिंदो ने 48 घंटे तक किया बलात्कार, लड़की की मां ने कहा बेटी बनना चाहती थी अफसर
Image
शेख हारून अली के नेतृत्व में प्रदेश अध्यक्ष समाजवादी पार्टी नरेश उत्तम का हुआ जोरदार स्वागत
Image
सिंगरौली जिले के कांग्रेश नेता भास्कर मिश्रा को अज्ञात लोगों ने बेहतरीन पीटा मामला दर्ज
Image
सिंगरौली जिले के प्रभारी मंत्री श्री ब्रजेंद्र प्रताप सिंह ने शक्तिनगर स्थित मां ज्वालामुखी का दर्शन व पूजन कर लिया आशीर्वाद
Image
प्रदेश सरकार के द्वारा मुर्गी पालन के साथ ही बकरी पालन को भी दे बड़ावा :- प्रभारी मंत्री श्री सिंह
Image