खनिज मंत्री तथा ग्रामीण विकास मंत्री ने किया 101.83 करोड़ की बैढ़न पेयजल योजना का लोकार्पण 

खनिज मंत्री तथा ग्रामीण विकास मंत्री ने किया 101.83 करोड़ की बैढ़न पेयजल योजना का लोकार्पण 


करुणा शर्मा सिंगरौली



कमलनाथ सरकार प्रदेश में विकास की नई गाथा लिख रही है: प्रभारी मंत्री


अब सिंगरौली जिले में पेयजल का कोई संगट नहीं रहेगा: ग्रामीण विकास मंत्री


वैढ़न,सिंगरौली। हमारी सरकार ने राशि की कमी होने के बावजूद किसानों के ऋण माफ किये। सिंगरौली के विकास के लिए हमारी सरकार प्रयास कर रही है। बैढ़न जल प्रदाय योजना से अब बैढ़न शहर के नागरिकों को भरपूर पानी मिलेगा। जिन वार्डों में पानी की कठिनाई थी उनकी समस्याओं का निदान हुआ है। मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ के नेतृत्व में प्रदेश में विकास की नई गाथा लिखी जा रही है। हमारी सरकार ने आमजनता को जो वचन पत्र दिया है उसके हर वचन पर कार्यवाही की जा रही है। उक्त बाते जिले के प्रभारी मंत्री प्रदीप जायसवाल ने  पेयजल योजना के शुभारंभ अवसर पर कही। 
प्रभारी मंत्री ने कहा कि जल प्रदाय योजना का कार्य राशि के अभाव में बाधित था। इसे खनिज मद से 25 करोड़ रूपये की राशि देकर पूरा कराया गया है। कलेक्टर श्री चौधरी ने शहर में 20 सड़क 20 तालाब तथा 20 पार्को के जीर्णोद्धार की जो कार्ययोजना बनायी है। उसे पूरा कराया जायेगा। 



प्रभारी मंत्री प्रदीप जायसवाल ने कहा है कि दिल्ली समेत देश के 8 राज्यों में हुए विधानसभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी की करारी हार हुई है।जिससे  भाजपा नेताओं की बोलती बंद हो गई है। उन्होने कहा कि भाजपा राममंदिर, राममंदिर ट्रस्ट, भारत पाकिस्तान, नागरिकता कानून, धारा 370 जैसे कई मुद्दे चले लेकिन भाजपा की क्या हालत हुई सबको पता चल गया। उन्होंने कहा  कि मुख्यमंत्री कमलनाथ ने  प्रदेश को तीव्र गति से विकास की ओर ले जा रहे हैं। प्रदेश के किसानों का पहले चरण में 50 हजार, दूसरे चरण में 1लाख और तीसरे चरण में तीन लाख रुपए तक के कर्ज माफ किये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि  मध्यप्रदेश में अब 15 साल तक कांग्रेस की सरकार चलेगी। उन्होंने कहा कि सिंगरौली को जो सम्मान व विकास पहले मिलना था , वह  भाजपा के कार्यकाल में नही मिला। लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। उन्होंने कहा कि सिंगरौली के उद्योगों से आर्थिक मदद मिलाकर देश के प्रमुख क्षेत्रों से एयर कनेक्टिविटी जोड़ेंगे।  उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री कमलनाथ ने प्रदेश में राइट टू वॉटर (जल का अधिकार)अभियान चलाया है, जिससे प्रदेशवासियों को शुद्ध जल मुहैया कराया जा सके।



बैढ़न तथा सिंगरौली 30 किलो मीटर के दायरे में फैला हुआ शहरी क्षेत्र है। इसे पर्याप्त पेयजल उपलब्ध कराने के लिए नगर निगम सिंगरौली द्वारा बैढ़न बृहद जल प्रदाय योजना 2015 में शुरू की गयी। इसका आज जिले के प्रभारी मंत्री श्री प्रदीप जायसवाल खनिज मंत्री एवं श्री कमलेश्वर पटेल ग्रामीण विकास मंत्री ने संयुक्त रूप से लोकार्पण किया। समारोह में  विधायक श्री रामलल्लू वैश्य, कलेक्टर तथा नगर निगम प्रशासक केवीएस चौधरी, पुलिस अधीक्षक अभिजीत रंजन , जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी ऋतुराज, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रदीप सिंडे, एसडीएम विकास सिंह,आयुक्त नगर निगम शिवेन्द्र सिंह, वरिष्ट समाजसेवी मनोज कुलश्रेष्ठ, पूर्व महापौर श्रीमती रेनू शाह, जिल उपाध्यक्ष अंजनी दुबे, पूर्व अध्यक्ष जिला पंचायत अशोक शाह, अमित द्विवेदी, राम शिरोमणि शाह, अरविंद सिंह चंदेल, रमाशंकर शुक्ला, ज्ञानेन्द्र सिंह, सीपी शुक्ला, जागवली वैश्य,प्रवीण सिंह, देवेन्द्र पाठक, शशीकला सिंह, उपायुक्त नगर निगम आईडी सिंह, कार्यपालन यंत्री व्हीपी उपाध्याय, अजीत सिंह बघेल, सहायक यंत्री आर.के जैन, सिद्धार्थ सिंह आदि उपस्थित रहे।




समारोह की अध्यक्षता करते हुए पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री पटेल ने कहा कि बैढ़न बृहद पेयजल योजना के माध्यम से मुख्यमंत्री जी ने सिंगरौली को 101 करोड़ रूपये का उपहार दिया है। अब सिंगरौली में पेयजल का कोई संकट नहीं रहेगा। इस परियोजना से पूरे शहर में पानी की आपूर्ति के लिए 30 किलो मीटर की मेनलाइन तथा 110 किलो मीटर की वितरण लाइन बनाई गयी है। इससे लगभग 40 हजार घरों को शुद्ध पानी मिलेगा। हमारी सरकार कहने में नहीं करने में विश्वास करती है। सरकार प्रदेश के विकास के लिए लगातार कार्य कर रही है। मुख्यमंत्री जय किसान फसल ऋण माफी योजना के दूसरे चरण के पात्र किसानों को ऋण माफी का लाभ दिया जा रहा है। सभी पात्र किसानों को 31 मार्च तक ऋण माफी का लाभ मिल जायेगा। मंत्री श्री पटेल ने किसानों से समर्थन मूल्य में गेंहू उपार्जन के लिए पंजीयन कराने तथा मुख्यमंत्री कन्यादान योजना का लाभ लेकर बेटियों के विवाह का अनुरोध किया। 
समारोह में कलेक्टर तथा प्रशासक नगर निगम श्री चौधरी ने कहा कि बैढ़न तथा मोरबा जल प्रदाय योजना का कार्य 2015 में शुरू किया गया। बैढ़न जल प्रदाय योजना की क्षमता 43.6 एमएलडी तथा मोरबा परियोजना की क्षमता 11.9 एमएलडी है। इन दोनों परियोजनाओं से लगभग 50 हजार घरों में पानी की आपूर्ति की जायेगी। इसके लिए 20 हजार से अधिक घरों में नल कनेक्शन किया जा चुका है। इन दोनों परियोजनाओं से शहर के 31 वार्डों में पेयजल की आपूर्ति की जायेगी। इसके लिए नगर निगम ने पूरी तैयारी कर ली है।


Popular posts
प्रेमी ने पहले रेप किया,फिर मंदिर में शादी,बस 1 घंटे की दुल्हन बनकर रह गई लड़की,आगरा के सिकंदरा चौराहा स्थित होटल में एक लड़की से रेप का मामला सामने आया है
Image
मध्य प्रदेश में गरीबों को थैले में मिलेगा उचित मूल्य की दुकान से राशन, सीएम शिवराज
Image
सिंगरौली जिले में शाहवाल बस अनियंत्रित होकर पलटी,करीब दर्जन भर लोग हुए घायल
Image
शादी में प्रेमिका की फिल्मी एंट्री ने खोला बड़ा राज, आखिर में छोटा भाई ले गया दुल्हन
Image
सरई थाना अंतर्गत गजरा बहरा में मुख्य मार्ग पर रोड की है हालत खराब कहने को तो है प्रधानमंत्री रोड
Image