ऑपरेशन शिकंजा बरगवां पुलिस ने 1 सप्ताह में दो दर्जन वारंटियों को दबोचा

ऑपरेशन शिकंजा बरगवां पुलिस ने 1 सप्ताह में दो दर्जन वारंटियों को दबोचा


जिला ब्यूरो चीफ विवेक पाण्डेय ,संवाददाता करुना शर्मा



मध्य प्रदेश सिंगरौली;अभी तक; नवागत पुलिस अधीक्षक टी. के. विद्यार्थी के निर्देशन व ए एसपी प्रदीप शेंडे के मार्गदर्शन में चलाये जा रहे ऑपरेशन शिकंजा के तहत चोरी, मारपीट व अन्य मामलों में वर्षो से फरार चल रहे वारंटियों को गिरफ्तार करने हेतु बरगवां टी आई मनीष त्रिपाठी के नेतृत्व में गठित टीम द्वारा लगातार किये जा रहे प्रयास के क्रम में शनिवार को 2 स्थायी वारंटियों को अलग-अलग स्थानों से गिरफ्तार करने में सफलता मिली है। 1 मार्च से शुरू ऑपरेशन शिकंजा में बरगवां पुलिस ने अब तक 23 स्थायी व गिरफ्तारी वारंटी को गिरफ्तार किया है। 



                                                 पुलिस अधीक्षक टी. के. विद्यार्थी सिंगरौली


ऑपरेशन शिकंजा अभियान में बरगवां पुलिस टीम द्वारा की गई अब तक कि कार्यवाही में बरगवां टी आई मनीष त्रिपाठी ने बताया कि 7 मार्च को दो स्थायी वारंटियों को अलग-अलग स्थानों से  गिरफ्तार किया गया है। टी आई श्री त्रिपाठी ने आगे बताया कि गिरफ्तार वारंटी  शिव प्रसाद पुत्र राम भजन बसोर निवासी चौराडाड पेशी में हमेशा अनुपस्थित रहता था ,जिसके  खिलाफ न्यायालय द्वारा स्थायी वारंट जारी ।किया गया था। वारंटी शिव प्रसाद पंजाब में रह कर पुलिस व न्यायालय को चकमा दे रहा था ,जो आज होली पर्व के अवसर पर  घर आने के दौरान गिरफ्तार हो गया।


इसी क्रम  दूसरे वारंटी रामाधीन बसोर पुत्र हँसलाल निवासी पीपरडह  को गिरफ्तार किया गया है। यह गत 2014 से न्यायालय को चकमा देकर फरार चल रहा था।  टी आई श्री त्रिपाठी के अनुसार दोनो वारंटी कके ऊपर छत्तीसगढ़    व सिंगरौली जिले के कई थानों में चोरी का प्रकरण दर्ज है। 


बरगवां पुलिस ने 23 पर कसा शिकंजागौरतलब हो कि गत सोमवार से शुरू ऑपरेशन शिकंजाअभियान के बाद से ही सक्रिय  बरगवां टी आई मनीष त्रिपाठी द्वारा टीम गठित कर स्थायी व गिरफ्तारी वारंटियों की धर-पकड़ शुरू कर दी गयी थी। श्री त्रिपाठी के नेतृत्व में 1 सप्ताह में 2 फरार ईनामी, 8 स्थायी, 13 गिरफ्तारी वारंटियों को गिरफ्तार किया गया है। ज्ञात हो कि पुलिस व न्यायालय को चकमा देकर वर्षो से फरार चल रहे वारंटियों को गिरफ्तार करने में टी आई श्री त्रिपाठी को महारत हासिल है। श्री त्रिपाठी जब कोतवाली टी आई रहे हैं तब 20-25 वर्ष पुराने वारंटियों व अपराधियो को अन्यत्र राज्यो से ढूंढ ढूंढ कर गिरफ्तार किये थे। 


यह है टी आई  एंड टीमटी आई मनीष त्रिपाठी के नेतृत्व में ऑपरेशन शिकंजा को सफल बनाने के लिए जी जान से लगने वाले बरगवां टीम में डी आर सिंह, सुरेंद्र यादव, उमेश अग्निहोत्री ,संजीत सिंह, संतोष सिंह, संजय सिंह परिहार, अरविंद चौबे, रमेश प्रसाद व पंकज चतुर्वेदी शामिल हैं।


Popular posts
प्रेमी ने पहले रेप किया,फिर मंदिर में शादी,बस 1 घंटे की दुल्हन बनकर रह गई लड़की,आगरा के सिकंदरा चौराहा स्थित होटल में एक लड़की से रेप का मामला सामने आया है
Image
मध्य प्रदेश में गरीबों को थैले में मिलेगा उचित मूल्य की दुकान से राशन, सीएम शिवराज
Image
सिंगरौली जिले में शाहवाल बस अनियंत्रित होकर पलटी,करीब दर्जन भर लोग हुए घायल
Image
शादी में प्रेमिका की फिल्मी एंट्री ने खोला बड़ा राज, आखिर में छोटा भाई ले गया दुल्हन
Image
सरई थाना अंतर्गत गजरा बहरा में मुख्य मार्ग पर रोड की है हालत खराब कहने को तो है प्रधानमंत्री रोड
Image