छतरपुर जिले की खाकी बनी देवदूत, हर हाथ को मदद

छतरपुर जिले की खाकी बनी देवदूत, हर हाथ को मदद...


RV न्यूज लाईव ब्यूरो चीफ महेंद्र सिंह ठाकुर छतरपुर



जिला छतरपुर मध्य प्रदेश // जब भी किसी पर अत्याचार होता है, किसी तरह की मुसीबत आती है, तो वह पुलिस स्टेशन की ओर दौड़ता है। यह मानव व्यवहार है कि पांच मिनट पहले जिस पुलिस को भला बुरा कह रहे है, अगले ही पल वे रक्षक नजर आते हैं। सच तो यह है कि भारतीय व्यवस्था की जान हैं, पुलिस विभाग।



जब भी कठिन समय आया, पुलिस विभाग ने अपनी नींद और चैन खोकर हमारी रक्षा की। इन दिनों छतरपुर जिले हजारों की संख्या में पुलिस कर्मी और अधिकारी लोगों के लिए देवदूत का काम कर रहे हैं। न इनके दिन का ठिकाना है, न रात का पता... नहाना, धोना, खाना-पीना तक मुहाल है।



यहां तक कि ये अपने बच्चों को गोद में भी नहीं उठा पा रहे हैं सिर्फ अपने कर्तव्य का पालन करते हुए 24 घंटे जनता की हिफाजत पर निर्भर हैंवायरस के चलते ये अपने परिवारों से भी दूरी बनाए हुए हैं। इनके पास अभी है तो सिर्फ काम... काम और बस काम... काम भी इतना है कि काम के घंटे की बात करना बेमानी हो जाता है।



अस्पताल पहुंचाना हो तो पुलिस... खाना खिलाना हो तो पुलिस... कहीं कोई फंस गया है तो पुलिस, हर काम के लिए पुलिस ही बुलाई जा रही है। जब हमारे परिवार के लोग हमें घरों से निकलने नहीं दे रहे हैं, ऐसे में वे अपने दिन-रात घरों से बाहर बिता रहे हैं... छतरपुर जिले के देव दूतों को छतरपुर की जनता का हृदय दिल से सलाम....



Popular posts
रोडवेज बस ड्राइवर की बड़ी लापरवाही खलासी से बस चलवाने पर बस अनियत्रित होकर जा गिरी नदी मे
Image
गोरबी ब्लॉक बी (एनसीएल) की जमीन पर लंबे समय से चले आ रहे अवैध अतिक्रमण को प्रशासन ने अंततः हाईकोर्ट के आदेश के बाद कराया मुक्त
Image
सिंगरौली जिले में 24 घंटे में 36 लोग मिले कोरोना पाज़िटिव
Image
नदी नहाने गए लड़के की डुबने से हुई मौत-
Image
प्रमोशन में आरक्षण और एक्ट्रोसिटी एक्ट के विरोध में सपाक्स ने सौपा ज्ञापन
Image