दिल्ली यूपी के बीच आने-जाने पर लगा बैन पास धारकों के लिए ही इजाजत

दिल्ली यूपी के बीच आने-जाने पर लगा बैन पास धारकों के लिए ही इजाजत


संवाददाता अंकित मलिक गौतमबुद्ध नगर



गौतमबुद्ध नगर ब्यूरो लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराने के लिए दिल्ली-यूपी बॉर्डर पर दिल्ली पुलिस के साथ-साथ नोएडा और गाजियाबाद पुलिस ने भी बुधवार सुबह से ही मोर्चा संभाल लिया है। पुलिस सभी वाहनों और लोगों की जांच के बाद पास होने या फिर जायज वजह बताने पर ही दिल्ली से यूपी आने-जाने दे रही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लॉक डाउन के चलते लखनऊ में एक बैठक की थी जिसमें प्रदेश के समस्त जिलाधिकारियों को निर्देश दिया था कि किसी भी मीडिया कर्मी के साथ किसी भी प्रकार का कोई दुर्व्यवहार रोक टोंक ना की जाए मीडिया कर्मी को उनके ऑफिस द्वारा बनाए गए परिचय पत्र को ही पास माना जाए


नोएडा में बतौर सब इंस्पेक्टर तैनात गुरुमुख सिंह का कहना है कि जिनके पास आपूर्ति या अन्य काम के लिए पास हैं उन्हें जाने दिया जा रहा। इसके अलावा डॉक्टरों, सफाई कर्मियों को यूपी से दिल्ली जाने की इजाजत मिल रही है। 
वहीं, एशिया की सबसे बड़ी मंडी आजादपुर मंडी में लगातार दूसरे दिन जाम लगा हुआ है। सैकड़ों वाहन जाम में फंसे हुए हैं। वहीं, वहां पर मौजूद ट्रैफिक पुलिस किस तरह ट्रैफिक सुचारू करने में जुटी हुई है। इस जाम के चलते शारीरिक दूरी के नियम भी कई बार टूटत नजर आए।
इससे पहले मंगलवार को लॉकडाउन के सख्ती से पालन के दौरान दिल्ली-उत्तर प्रदेश बॉर्डर पर वाहनों की कतार के चलते भीषण जाम लग गया था। ऐसे में जरूरी सामान की आपूर्ति के लिए लोगों के साथ डॉक्टरों और अन्य सरकारी महकमों के लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा था।
बता दें कि कि मंगलवार सुबह जगह-जगह बैरिकेडिंग लगाकर जांच के चलते यातायात जाम की समस्या पैदा हो गई है। लॉकडाउन में एक स्थान से दूसरे स्थान पर जाने के लिए प्रशासन ने अलग से पास जारी किया गया। बॉर्डर पर पुलिस कर्मचारी बैरिकेड लगाकर वाहन के पास की जांच कर रहे थे।
वहीं, बॉर्डर के उस पार उसी वाहन को भेजा जा रहा था जिसकी गाड़ी पर पास लगा हुआ था। जिसकी गाड़ी पर पास नहीं था उसकी गाड़ी को पुलिसकर्मी वापस लौटा दे रहे थे।
वहीं, एक-एक वाहनों की जांच के चलते सड़क पर गाडि़यों की लंबी कतारे लग गईं, ऐसे में गाड़ियों की लंबी कतार के चलते लोग घंटों जाम में फंसे रहे। सड़क पर जाम के चलते शारीरिक दूरी का उल्लंघन सीधे तौर पर देखा जा रहा था।
हालात को बिगड़ते देख पुलिस प्रशासन ने वाहनों की बिना जांच करे बैरिकेड हटाकर वाहनों के लिए रास्ता खोल दिया। बॉर्डर से बैरिकेड हटते ही आधा किलोमीटर लगा जाम खत्म हो गया।


Popular posts
नोएडा में चल रहा खुलेआम झाड़ियों में सेक्स रैकेट कौन बनेगा जिम्मेदार
Image
सिंगरौली-कुएं में गिरने से जंगली जानवर लकड़बग्घा (हड़हा) की मौत
Image
महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने हेतु अदाणी फाउंडेशन द्वारा प्रशिक्षण कार्यक्रम
Image
प्रयागराज नैनी स्थित आधारशिला वृद्धा आश्रम में आशा रानी चैरिटेबल फाउंडेशन द्वारा आयोजित वृद्ध सेवा परम सेवा कार्यक्रम का किया गया आयोजन
Image
सरई थाना अंतर्गत महरैल गांव फांसी पर लटकने से हुई प्रेमी युगल जोड़ों की मौत
Image