फरार चल रहे दो शातिर ईनामी चोर को बरगवां पुलिस ने किया गिरफ्तार, चोरी के दो अलग-अलग मामलों में थे फरार।

फरार चल रहे दो शातिर ईनामी चोर को बरगवां पुलिस ने किया गिरफ्तार, चोरी के दो अलग-अलग मामलों में थे फरार। 


जिला ब्यूरो चीफ विवेक पाण्डेय



जिला सिंगरौली मध्यप्रदेश श्रीमान पुलिस अधीक्षक के दिशा निर्देशन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के मार्गदर्शन में बरगवां थाना प्रभारी मनीष त्रिपाठी द्वारा फरार चल रहे दो शातिर चोरों को किया गया गिरफ्तार। दिनांक 03/10/2016 को प्रार्थी अखिलेश दुबे निवासी पड़री ने थाना में सूचना दर्ज कराया था कि उसका ट्रेलर क्रमांक MP 66 H 1640 जो हिंडालको में कोयला खाली कर मोरवा जाते समय उसका ड्राइवर कसर गेट के पास खाना खाने लगा उसी समय अज्ञात चोरों द्वारा उसकी गाड़ी से 2 नग बैटरी चुरा ले गए। जिस पर थाना बरगवां ने अज्ञात चोरों के खिलाफ अपराध क्रमांक 320/16 धारा 379 ताहि. कायम कर आरोपी रोहित अगरिया निवासी फुलझर उसी समय गिरफ्तार हो गया किंतु रामलल्लू उर्फ बबलू पिता रामप्रसाद अगरिया निवासी भौडार फरार हो गया। जिस पर आरोपी का चालान फरारी के दौरान ही धारा 299 जा.फौ. के तहत प्रस्तुत किया गया था। आज दिनांक आरोपी को ग्राम फुलझर से गिरफ्तार किया गया। जिसके ऊपर चोरी, लूट के 14 से अधिक प्रकरण दर्ज हैं।


इसी प्रकार निवासी बरैनिया विकास उर्फ झंडू साकेत को गिरफ्तार किया गया। जो दिनांक 08/09/2018 को अपने अन्य साथियों के साथ इंडियन गैस एजेंसी के पास से 40000 रुपये कीमती का जनरेटर चोरी कर ले गया था। जिसके अन्य साथियों को गिरफ्तार कर लिया गया था। किंतु विकास उर्फ झंडू साकेत फरार चल रहा था। जिसे आज गिरफ्तार कर माननीय न्यायालय पेश किया गया।उपरोक्त कार्रवाई में निरीक्षक मनीष त्रिपाठी के नेतृत्व में प्रधान आरक्षक संतोष सिंह, अरविंद चौबे, संजीत सिंह, उमेश अग्निहोत्री, आरक्षक संजय सिंह परिहार, गणेश रावत, पंकज चतुर्वेदी, विकास सिंह की महत्वपूर्ण भूमिका रही।


Popular posts
छत्तीसगढ़ में दुर्गा विसर्जन के जुलूस पर चढ़ाई कार एक की मौत, 26 से ज्यादा लोग घायल
Image
ऑटो और कार की भिड़ंत दो की मौत 4 घायल
Image
सिंगरौली जिले में कोयला मंत्री प्रह्लाद जोशी का एनसीएल दौरा
Image
सिंगरौली जिले के एनटीपीसी पावर प्लांट में एक अधेड़ उम्र के व्यक्ति की पानी के चैनल में गिरने से मौत
Image
मुहम्मदपुर फेटी कि घटना का अभी तक नहीं हुआ खुलासा,खुली आंख वाले प्रशासन ने वादी को अन्धा दिखाकर निर्दोष पत्रकार को भेजा गया जेल प्रशासन ने मौके की विवेचना करना जरूरी नहीं समझा
Image