यूपी के आगरा नोएडा लखनऊ समेत 9 जिले रेड जोन में घोषित

यूपी के आगरा नोएडा लखनऊ समेत 9 जिले रेड जोन में घोषित


संवाददाता अंकित मलिक गौतम बुद्धनगर



गौतम बुद्धनगर नोएडा । केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने कोरोना वायरस के संक्रमण पर नियंत्रण करने के लिए लाकॅडाउन को तीन मई तक बढ़ाने के साथ जिलों में संक्रमण की स्थिति पर इनको तीन में बांटा गया है। इसी क्रम में उत्तर प्रदेश के भी 75 जिलों का बंटवारा किया गया है। 


उत्तर प्रदेश में आगरा, गौतमबुद्ध नगर व राजधानी लखनऊ सहित नौ जिलों को रेड जोन में शामिल किया गया है। इनके साथ ही जिन जिलों में कम पॉजिटिव केस हैं, उनको ऑरेंज जोन में शामिल किया गया है। उत्तर प्रदेश के 31 जिलें ऑरेंज जोन में हैं। प्रदेश के 36 जिलों को ग्रीन जोन में रखा गया है। इन सभी जिलों की समय-समय पर मॉनिटरिंग की जाएगी और बढ़ते-घटते केस पर इनको को ऊपर व नीचे के जोन में शामिल किया जाएगा।


जिलों केंद्र सरकार ने उन जिलों की सूची जारी की है जिन्हें बड़े पैमाने पर कोरोना के प्रसार के चलते हॉटस्पॉट जिला घोषित किया गया है। सरकार ने एक निश्चित समय सीमा के भीतर कोरोना के मामलों के घटने की सूरत में इन स्थितियों मे बदलाव का प्रारुप भी तैयार किया है।


केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के निर्देशों के मुताबिक जिन इलाकों में 28 दिनों के भीतर कोई केस रिपोर्ट नही किया जाएगा उन रेड जोन को माना जाएगा। इसस यह भी पता चलेगा की वह लोग कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए सही काम कर रहे हैं। इसी तरह जिन आरेंज जोन में 14 दिनों तक कोई मामला सामने नही आएगा, उनकी भी रिपोर्ट बेहतर मानी जाएगी। इसी तरह ग्रीन जोन के लिए यह समय सीमा 28 दिनों की रखी गई है।


रेड जोन
सरकार ने उन जिलों की सूची जारी की है जिन्हें बड़े पैमाने पर कोरोना के प्रसार के चलते हॉटस्पॉट जिला घोषित किया गया है। इनको रेड जोन में रखा गया है। इनमें आगरा, गौतमबुद्ध नगर, मेरठ, लखनऊ, गाजियाबाद, सहारनपुर, शामली, फिरोजाबाद और मुरादाबाद को रखा गया है।


ऑरेंज जोन


इस लिस्ट में नॉन हॉटस्पॉट जिलों यानि ऑरेंज जोन का भी नाम है। इनमें बुलंदशहर, सीतापुर, बस्ती, बागपत, कानपुर शहर, वाराणसी, अमरोहा, बरेली, गाजीपुर, आजमगढ़, हाथरस, मुज्जफरनगर, जौनपुर, लखीमपुर खीरी, औरैया, बांदा, बदायूं, हरदोई, कौशांबी, मथुरा, मिर्जापुर, रायबरेली, पीलीभीत, बाराबंकी, बिजनौर, प्रयागराज व इटावा शामिल हैं। इस सूची में जिन जिलों के नाम नहीं हैं, वह सभी ग्रीन जोन में शामिल हैं। इसमें उत्तर प्रदेश के 31 जिले हैं।


रेड और आरेंज जोन में अंतर


रेड जोन में वह इलाके शामिल हैं, जहां कोरोना के हॉटस्पॉट हैं। आरेंज जोन में कोई भी हॉटस्पॉट एरिया नहीं है। रेड जोन को भी दो भागों में बांटा गया है। रेड जोन में कुछ ऐसे इलाके हैं, जहां कोरोना का आउटब्रेक हुआ है। इसके अलावा कुछ रेड जोन वाले जिले में कोरोना के बहुत सारे मरीज सामने आए हैं। वहां कलस्टर बन गए हैं।


ग्रीन जोन में कोरोना मुक्त जिले
जिले पूरी तरह से कोराना से मुक्त हैं और ग्रीन जोन में हैं। इनमें रेड और आरेंज जोन में कोरोना वायरस का कंटेनमेंट प्लान लागू होगा और वहां किसी तरह की आर्थिक गतिविधि की इजाजत नहीं दी जाएगी। ग्रीन जोन में शारीरिक दूरी व मास्क की अनिवार्यता के साथ आर्थिक व सामाजिक गतिविधियों की इजाजत मिलेगी। 28 दिन तक कोरोना का एक भी मरीज सामने नहीं आने के बाद आरेंज जोन ग्रीन जोन में तब्दील हो जाएगा।


Popular posts
SINGER SHILPI RAJ MMS: का प्राइवेट वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है, जिसमें वो एक लड़के के साथ आपत्तिजनक हालत में दिखाई दे रही है
Image
भोजपुरी एक्ट्रेस निशा दुबे, ने चिराग पर दिल हारी बोलीं- ''यार ये बंदा कितना क्यूट है
Image
अदाणी फाउंडेशन द्वारा विश्व बुजुर्ग दुर्व्यवहार जागरूकता दिवस पर कार्यशाला आयोजित
Image
अदाणी समूह ने विश्व योग दिवस पर कराया योगाभ्यास, दिया निरोग रहने का संदेश
Image
स्वस्थ एवं स्वच्छ समाज के निमार्ण हेतु आध्यात्मिक सशक्तिकरण आवश्यक - राजयोगिनी अवधेश बहिन
Image