अद्भुत!कोरोना वाॅरियर्श पिता से प्रेरित हो नन्ही शानवी ने गुल्लक की दान

अद्भुत!कोरोना वाॅरियर्श पिता से प्रेरित हो नन्ही शानवी ने गुल्लक की दान


संवाददाता सचिन यादव फर्रुखाबाद



फर्रुखाबाद उत्तर प्रदेश। वैश्विक महामारी कोविड-19 के इस दौर में चैतरफा समाज शासन और प्रशासन को हर मोर्चे पर संभव मदद पहुंचाने की लगी होड़ के बीच एक नन्ही मासूूम अपने कोरोना वाॅरियर्श पिता के सेवा भाव से प्रेरित होकर पाई-पाई कर भरी गई गुल्लक कोरोना के खिलाफ जारी युद्ध को लड़ने के लिए मुख्यमंत्री राहत कोष के लिए जिलाधिकारी को सौंपी। इस नन्ही जान की भावना से प्रेरित होकर जिलाधिकारी कई मिनट तक जड़ दिखाई दिये। इसी दौरान एक अन्य महिला स्वंयसेवी ने जिलाधिकारी को गरीबों में वितरित करानें के लिए बिस्किट के पैकेट भेंट किये। 
कोरोना वॅारिसयर्श सुनील कुमार गुप्ता के घर जन्मी नन्हीं शानवी ने जब जीवन की परवाह न करके वैश्विक महामारी कोविड से दो-दो हाथ कर रहे अपने पिता को लोहा लेने की बहादुरी भरी दास्ता अपनी माॅ से सुनी तो खून में समाजसेवा को अंश लेकर पैदा हुई शानवी का दिल भी इस वैश्विक महामारी के दौर में कुछ अनूठा करने के लिए मचलने लगा। 
माॅ से जिद करके शानवी ने मेले के बाजार से खरीद कर भरी गई अपनी गुल्लक को कोरोना कोविड-19 के खिलाफ छिड़ी जंग केे लिए मुख्यमंत्री राहत कोष में देने के लिए जिद करके माॅ से हासिल कर लिया। शुक्रवार तड़के कोरोना वाॅरियर्श अपने पिता के साथ तैयार होकर कलेक्टर मानवेन्द्र सिंह से मिलने की जिद करने लगी। बहुतेरा समझाने पर भी जब वह नहीं मानी तो सुनील उसे लेकर कलेक्ट्रेट पहुंचे। 
जिलाधिकारी सिंह को जब यह खबर लगी की नन्ही शानवी मुख्यमंत्री राहत कोष में अपनी गुल्लक दान करने आई है तो उनकी खुशी का ठिकाना नहीं रहा। कार्यालय के दरवाजे पर पहुंचकर उन्होने खुद शानवी की आगवानी की और उसे अंदर लेकर गये। शानवी के मुख्यमंत्री राहत कोष के लिए गुल्लक दान कर लौट जाने के बाद जिलाधिकारी सिंह के मुंह से बरबश फूट पड़ा कि जहां सामाजिक युद्ध जीतने के लिए ऐसे दानवीर हो। उस देश और समाज को सफल होने से कोई नहीं रोक सकता। 
उधर, श्रीमती कनक बरतियां ने जिलाधिकारी से मुलाकात कर कोविड-19 को लेकर देशभर में लागू लाॅकडाउन पार्ट-3 में परदेश से आ रहे प्रवासी मजदूरों और समाज के सबसे कमजोर तबके के नन्हें मुन्नों के लिए 270 बिस्किट तथा 100 चिप्स के पैकेट जिलाधिकारी सिंह को सौपें। जिससे रोजगार छिन जाने के कारण नन्हेें मुन्नों को भी जायका बदलने का अवसर मिल सके।


Popular posts
स्कूल से कक्षा दसवीं का लापता छात्र स्कूल के पीछे तालाब में मिला लाश हत्या की आशंका क्षेत्र में फैली सनसनी
Image
प्रधानमंत्री जी ने नोयडा अन्तराष्ट्रीय विमानतल की रखी आधारशिला जो एशिया का सबसे बड़ा एयरपोर्ट होगा नोएडा इण्टरनेशनल एयरपोर्ट
Image
दर्दनाक हादसा ट्रैक्टर थ्रेसर मे धान डालते समय धान के साथ थ्रेसर में गया ट्रेक्टर ड्राइवर हुई मृत्यु
Image
परसौना मे भीषण सड़क हादसा हादसे में कार और आटो की जोरदार टक्कर हुई क्षतिग्रस्त
Image
बैढ़न तहसील में पदस्थ बाबू वह अधिवक्ता द्वारा फर्जी अंगूठा लगाकर दूसरे के नाम वसीयत करा लेने का मामला आया प्रकाश में
Image