जनता बेबस,असहाय व लाचार तो सरकार क्यू है बेखबर - डॉ दिलीप यादव

जनता बेबस,असहाय व लाचार तो सरकार क्यू है बेखबर - डॉ दिलीप यादव


सोनू कुमार यादव उपसंपादक रिटर्न विश्वकाशी



                            समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष डॉ दिलीप यादव


जनपद देवरिया उ.प्र. 01 जून - समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष डॉ दिलीप यादव ने एक प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से कहा कि सरकार लॉक डाउन में मनमानी निर्णय लेती रही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ MOU पर MOU हस्ताक्षर किए जा रहे है मुख्यमंत्री को इस बात को बताना चाहिये कि पूर्व में किये गए हस्ताक्षरित MOU से प्रदेश में कितने फैक्टरीया लगी और कितने लोगों को रोजगार प्राप्त हुये। लॉक डाउन के दौरान साशन व प्रसाशन दोनों बेलगाम नजर आ रहे है वही लॉक डाउन के नाम पर पुलिस सभ्रांत लोगो को थाने में ले जाकर बेवजह 2 से 3 दिन तक बैठा रहे है और सभ्रांत लोगो को बेइज्जत करने का कार्य कर रहे है और अनुचित लाभ लेने का कार्य कर रहे है प्रसाशन को जहाँ इस महामारी सम्बेदनशीलता दिखाना चाहिये वही पुलिस आम जनता के साथ बर्बरता पूर्वक रवैया अपना रही है पुलिस बेवजह छोटे दुकानदार जैसे ठेले खोमचे रेणी आदि दुकानदारों के दुकान को ध्वस्त कर मनमानी रवैया अपना रहे है प्रसाशन के हीटर शाही रवैये से आम जन इलाज नही करा जा रहे है और इलाज के अभाव में दम तोड़ दे रहे है। महिला सशक्तिकरण की बात करने वाली भाजपा सरकार सड़क पर प्रसव पीड़ा से कराह रही महिलाओं का मजाक बनाती रही और पीड़ित महिलाये सड़क प्रसव को मजबूर दिखी प्रवासी मजदूर जो बाहर आने वाली ट्रेनों का ठहराव देवरिया में कर दिया गया चिकित्सा सुविधा विहीन जिला यात्रियों के भारी दबाव में रह जिससे कोरोना संक्रमित मरीजो की संख्या बढ़ती गई। क़वारन्टीन सेंटरो पर साशन प्रसाशन द्वारा कोई व्यवस्था न होने से एकांत आवास काट रहे प्रवासी मजदूरों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है सरकार द्वारा किसानों को कोई राहत नही दी गई और सब्जी पैदा करने वाले किसानों को सब्जी अवने पवने दान पर भेजने पड़ रहे है सरकार एक तरफ गेंहू खरीदने की बड़ी बड़ी बात कर रही वही किसी सेंटर पर या तो बोरा नही है या तो किसानों को पैसे के लिए चक्कर लगाना पड़ रहा है अब तक केवल निर्धारित लक्ष्य का 36% ही खरीद हो पाया है देश व प्रदेश में आम आदमी का आय दिन प्रतिदिन घटती जा रही है सरकार भी विकास के नाम पर देश को कर्ज से डुबोती जा रही है देश के ऊपर 2014 में देश के ऊपर 446 अरब डॉलर कर्ज था जब कि 2019 तक सरकार ने कर्ज बढ़ाकर 557 अरब डॉलर कर दिया। 20 लाख करोड़ का राहत पैकेज देश की जनता के साथ मात्र एक छलावा है बेरोजगारी 45 साल में सर्वाधिक बढ़ गई है देश मे 1% लोगो की आय में बेतहाशा बृद्धि हुई है नतीज़तन देश मे असमानता की खाई और गहरी ही गई है जिससे गरीबी और भूखमरी बढ़ गई है स्वास्थ्य सुविधाओं के अभाव में कोरोना संकट और बढ़ गया सुरक्षा के सारे घोषणाओ के बावजूद संक्रमण आगे बढ़ता गया संक्रमण मरीजो के आधार पर भारत विश्व का नौवा संक्रमित देश हो गया। भाजपा की आय 2015-16 ,2016-17 से 81% बड़ी है देश का आम आदमी गरीब हुआ है और भाजपा व सहयोगी दल अमीर हुये है।


Popular posts
छत्तीसगढ़ में दुर्गा विसर्जन के जुलूस पर चढ़ाई कार एक की मौत, 26 से ज्यादा लोग घायल
Image
ऑटो और कार की भिड़ंत दो की मौत 4 घायल
Image
सिंगरौली जिले में कोयला मंत्री प्रह्लाद जोशी का एनसीएल दौरा
Image
सिंगरौली जिले के एनटीपीसी पावर प्लांट में एक अधेड़ उम्र के व्यक्ति की पानी के चैनल में गिरने से मौत
Image
मुहम्मदपुर फेटी कि घटना का अभी तक नहीं हुआ खुलासा,खुली आंख वाले प्रशासन ने वादी को अन्धा दिखाकर निर्दोष पत्रकार को भेजा गया जेल प्रशासन ने मौके की विवेचना करना जरूरी नहीं समझा
Image