शिवाजी महाराज के जन्मदिवस पर शिवाजी संस्कार भारती ने अनूठे रुप से मनाया जन्मदिन

शिवाजी महाराज के जन्मदिवस पर शिवाजी संस्कार भारती ने अनूठे रुप से मनाया जन्मदिन


जिला ब्यूरो चीफ विवेक पाण्डेय संवाददाता करुना शर्मा



मध्यप्रदेश जिला सिंगरौली/देश की जानी मानी एवं हिंदुत्व की अलग पहचान रखने वाली संस्था शिवाजी संस्कार भारती मध्य क्षेत्र में भी अपनी उपस्थिति दर्ज कराते हुए जगह जगह हिंदुत्व को बढ़ावा देने के लिए एवं छत्रपति शिवाजी महाराज के जीवन के कुछ उद्देश्यों को दीखाने का प्रयास कर रही है



इस कार्यक्रम को संवारने के लिए छोटे छोटे बच्चों को छत्रपति शिवाजी महाराज के रूप में उतार कर एक हिंदुत्व की छवि दीखाई गई है जो कि काबिलेतारीफ है इन बच्चों ने छत्रपति शिवाजी महाराज के रूप में एक  हिंदू सम्राट को पुनः जीवंत कर नया ईतिहास बनाने के लिए प्रयास कर हमारे समाज को आईना दीखाने का प्रयास किया है



इन बच्चों ने भारत माता की कहानी पर भी मनमोहक चित्रण कर समाज के लोगों को अपनी तरफ आकर्षित किया है इन बच्चों ने समाज को जागरूक करते हुए कहा कि शिवाजी महाराज के कदमों पर चलने की आवश्यकता है नहीं तो हिंदुत्व बच नहीं सकता है भारत माता को बचाना है तो *शिवाजी महाराज के कदमों पर चलना होगा।



भारत माता का किरदार निभाने वाली रीतिशा चक्रवर्ती ने भी कहा कि हमें यानी भारतमाता को सुरक्षित रखना है तो शिवाजी महाराज जैसे देशभक्ति की आवश्यकता है शिवाजी महाराज जैसे देशभक्त बनना पड़ेगा। इस कार्यक्रम को सफल बनाने में मुख्य रूप से सपाक्स पार्टी सिंगरौली ने बढ़ चढ़ कर आगे आई। सपाक्स पार्टी ने छत्रपति शिवाजी महाराज के जन्मदिन पर सपाक्स के जिलाध्यक्ष प्रवीण शुक्ला एवं सपाक्स सिंगरौली के संगठन मंत्री आदित्य प्रताप सिंह ने भी शिवाजी महाराज के कदमों पर चलने के लिए लोगों को प्रेरित करते हुए आग्रह किया कि हमें हिंदुत्व बचाना होगा तभी हम सुरक्षित रह सकते हैं


Popular posts
छत्तीसगढ़ में दुर्गा विसर्जन के जुलूस पर चढ़ाई कार एक की मौत, 26 से ज्यादा लोग घायल
Image
ऑटो और कार की भिड़ंत दो की मौत 4 घायल
Image
सिंगरौली जिले के एनटीपीसी पावर प्लांट में एक अधेड़ उम्र के व्यक्ति की पानी के चैनल में गिरने से मौत
Image
सिंगरौली जिले में कोयला मंत्री प्रह्लाद जोशी का एनसीएल दौरा
Image
मुहम्मदपुर फेटी कि घटना का अभी तक नहीं हुआ खुलासा,खुली आंख वाले प्रशासन ने वादी को अन्धा दिखाकर निर्दोष पत्रकार को भेजा गया जेल प्रशासन ने मौके की विवेचना करना जरूरी नहीं समझा
Image