स्वच्छ भारत की खुलती पोल,स्थानीय अधिकारी हो गये काम चोर नही निभा रहे अपनी जिम्मेदारी

स्वच्छ भारत की खुलती पोल,स्थानीय अधिकारी हो गये काम चोर नही निभा रहे अपनी जिम्मेदारी


संवाददाता मोहम्मद आरिफ जौनपुर



जनपद जौनपुर उ.प्र मछलीशहर तहसील क्षेत्र के कोतवाली अंतर्गत जिला मुख्यालय से 30 किमी की दूरी पर स्थित और दो विधानसभाओ से घिरा बाजार बरईपार का आलम यह है कि कई वर्षो पहले बनी नाली से बरसाती दिनों के इतर दुकानदारों के सामने पानी लगातार बह रहा है। जिसके कारण दुकानदारों की व्यावसायिक क्षति के साथ साथ बाजार निवासियों के बच्चे  बुजुर्ग संक्रामक बीमारियों की चपेट में आ रहे है। राष्ट्रपिता गांधी के सपनो को साकार रूप देने के लिए उनके जन्मदिवस 2 अक्टूबर 2014 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वच्छ भारत अभियान का शुभारम्भ किया। इस अभियान का लक्ष्य स्वच्छ भारत को हासिल करना था ताकि बापू के 150 वीं जयंती को इस लक्ष्य की प्राप्ति के रूप में मनाया जा सके। अब इस लक्ष्य की प्राप्ति कितनी हो सकी है इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि जिले के तमाम क्षेत्रो में आज भी बजबजाती नालियाँ, बरसात के दिनों में सड़को पर सड़ता पानी दिखायी पड़ता है। कुछ ऐसे ही दर्द को बयां करता दो तहसीलो सदर और मछलीशहर में पड़ने वाला कस्बा बरईपार है। जहाँ जैसे-तैसे वर्षो पूर्व नाली निर्माण तो हुआ लेकिन नाली के जलनिकासी हेतु कोई स्थायी उपचार नही की गयी। जिस कारण से नाली का अंतिम सिरा कई जगह मुक्त अवस्था में छोड़ दिया गया मानो निर्माणकर्ता रूसो के प्रकृतिवादी शिक्षा से बहृत अधिक अभिप्रेरित हो। नाली की गहराई क्षमता होने और कुछ सिरों के अस्थायी निकासी से जुड़ने कारण लोगो को लाभ भी हुआ। जिसके कारण लोग सन्तुष्ट नजर आये। लेकिन पिछले कई वर्षों से नाली की सफाई न होने से अधिकांश जगह नाली पूरी तरह जाम हो गयी है जिस कारण बाजारवासियों के द्वार पर काफी मात्रा में पानी बहने लगा है। पीडित परिवारों में विजय हलवाई, अजय हलवाई ने कहा कि हमारे परिवार ने अपने सामने  की पूरी नाली जो पूरी तरह कीचड़यृक्त थी, जिसकी सफाई की बावजूद इसके हर सुबह हमलोग नाली के जमा जल को निकालते है। फिर भी हमारे सामने नाली का दूषित जलजमाव बना रहता है जिस कारण समस्या जस की तस है और हमलोग बहुत मानसिक रूप से परेशान है। समस्या के इसी क्रम में पीड़ित विजय गुप्ता और अजय गुप्ता ने कहा कि दूषित जल के कारण कई बार हमलोगों के बच्चे और वुद्ध पिता बीमार पड़ चुके है। कई ग्राम पंचायत क्षेत्रोर से बाजार बरईपार घिरा हुआ है। जिसका एक बड़ा हिस्सा नेवढ़िया ग्राम में है। नाली के बहते जल की समस्या भी ज्यादातर इसी हिस्से के अंतर्गत है। लोगो के समस्याओं के निदान के संदर्भ में नेवढिया ग्राम प्रधान राजेन्द्र याद्व ने कहा कि नाली सफाई का मद शासन स्तर से न मिलने के बावजूद पिछले वर्षों अपने कोष से हमने नाली की सफाई करवाई लेकिन लापरवाह लोगो के कारण नाली जाम हो चुकी है। उन्होंने आगे कहा कि बहुत जल्द सफाईकर्मियों के द्वारा नाली साफ कराकर बाजारवासियों को इस समस्या से निजात, दिलाएंगे


Popular posts
ग्राम पंचायत क्षेत्र हरदी में सरपंच सचिव और रोजगार सचिव मिलकर फर्जी मास्टर रोल भर कर सारे मजदुर का पैसा हरण किया जा रहा है
Image
सोसल मीडिया पर महिला बनकर ब्लैकमेल करने वाला 15 वर्षीय हैकर को मोरवा पुलिस ने किया गिरफ्तार।
Image
मध्य प्रदेश कुआं दर्दनाक हादसा एक बच्चे को बचाने के दौरान कुएं में गिरे 30 से ज्यादा लोग, 13 साल के बच्चे को बचाने में बड़ा हादसा, कुआं धंसा, 5 लोगों की मौत, 9 लापता
Image
निगरी पुलिस ने सास और देवर से प्रताड़ित होकर पीड़िता ने लगाई थी फांसी अब दोनों को पहुचाया सलाखों के पीछे
Image
सिंगरौली जिले से जयंत उप चेक पोस्ट बना अवैध वसूली का अड्डा, मालवाहको और बड़े वाहनों से लिया जाता है मोटी रकम
Image