आम जनता के पैसों से पुलिस से लुका छुपी खेल रहे चिटफंड घोटाले बाज

आम जनता के पैसों से पुलिस से लुका छुपी खेल रहे चिटफंड घोटाले बाज


जिला ब्यूरो चीफ महेंद्र सिंह छतरपुर



जिला छतरपुर मध्य प्रदेश रिर्टन विश्वकाशी (RV NEWS LIVE) व्यूरो न्यूज- लवकुश नगर थाना अंतर्गत बुंदेलखंड में व्ही स्टार इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड कंपनी के नाम से सन 2012 में स्थानीय लवकुश नगर एवं महोबा के लोगों ने बनाकर खड़ी की थी । जिसमें पैसा जमा कर कम समय में अधिक ब्याज देकर दुगना किए जाने का झांसा देकर लोगों के करोड़ों रुपए जमा करवा लिए गए । कंपनी के हेड ऑफिस महोबा एवं दिल्ली में बनाकर पूरे बुंदेलखंड के छतरपुर, पन्ना ,टीकमगढ़ ,सतना, सागर ,महोबा, मौदहा हमीरपुर ,आदि शहरों में ब्रांच ऑफिस खोलकर पैसा जमा करवाते तथा बाउन्ड एवं रसीदें  देते रहे । 
वापसी का समय पूरा होने पर कंपनी के सारे ऑफिस बंद कर सारे डायरेक्टर रफूचक्कर हो गए । पीड़ित लोगों ने डायरेक्टर सी0एल0पाल,शिवरतन अनुरागी निवासी लवकुशनगर ,हरप्रसाद पाल, विनोद पाल निवासी महोबा को तलाशना शुरू किया ।डायरेक्टररों ने पीड़ित हितग्राहियों को कंपनी की जमीन बिकने एवं पेट्रोल पंप से होने वाली आमदनी से पैसा चुकाने का भरोसा दिलाया  । ज्यादा समय बीतने पर लोगों का भरोसा उठा और पुलिस में जून 2018 में मुकदमा पंजीबद्ध करवा दिया गया । बड़ी जद्दोजहद के बाद लवकुश नगर पुलिस ने पीड़ित हितग्राहियों के बयान एवं कागजात जमा कर अपनी बलाय तो टालनी चाही लेकिन आरोपियों को गिरफ्तारी की हिम्मत नहीं जुटाई क्योंकि राजनीतिक संरक्षण प्राप्त शिवरतन अनुरागी विधानसभा चुनाव में सपा से चंदला विधायक प्रत्याशी रह चुका है ।कंपनी में करीब 10 करोड़ का घोटाला


डायरेक्टरों की गिरफ्तारी को पुलिस अधीक्षक छतरपुर द्वारा इनाम घोषित 


पुलिस से गजब तो तब हो गया कि भा0 दं0 वि0धारा 406 420 120बी/15-06-18 के तहत लवकुश नगर थाने में मुकदमा पंजीबद्ध होते हुए भी डायरेक्टर विनोद पाल, ईश्वर पाल को 1 जनवरी 2019 को महोबा पुलिस ने गिरफ्तार कर एसपी छतरपुर के आदेश से लवकुशनगर पुलिस द्वारा 2 जनवरी को लवकुश नगर थाने लाया गया ।तत्कालीन टीआई श्री केडी सिंह के द्वारा 3 दिन थाने में रखकर पूछताछ की गई । 4 जनवरी 2019 की रात दोनों आरोपियों को बिना न्यायालय में पेश  किए रिहा कर दिए गए। टीआई द्वारा की गई कार्यवाही जनमानस के गले नहीं उतर रही है । सतना, टीकमगढ़ ,सागर पुलिस को आरोपियों की तलाश है लेकिन लवकुश नगर एवं महोबा पुलिस के संरक्षण से पुलिस गिरफ्तार करने में नाकामयाब है । 15 जुलाई 2019 को सतना पुलिस ने लवकुश नगर स्थित सीएल पाल एवं शिवरतन अनुरागी के घर छापा मार कार्यवाही की जिसमें सी 0यल0 पाल एवं शिवरतन अनुरागी भागने में सफल रहे वहीं शिवरतन के भतीजे रामफल अनुरागी  जो कंपनी का ब्रांच मैनेजर रहा है को गिरफ्तार कर थाना लवकुशनगर ले आई लेकिन कुछ देर बैठा कर पुलिस ने छोड़ दिया ।
सूत्र बताते हैं कुछ दिन बाद लवकुश नगर पुलिस महोबा से डायरेक्टर हर प्रसाद पाल के लड़के को पकड़ कर लाए और कुछ दिन थाने में बिठा कर छोड़ दिया गया ।
सूत्रों से मिली जानकारी पुलिस की हरकतों से चिटफंड को पुलिस का संरक्षण है ऐसा जन चर्चा में है ।धड़ल्ले से चल रहे हैं डायरेक्टरों के कारोबार


Popular posts
स्कूल से कक्षा दसवीं का लापता छात्र स्कूल के पीछे तालाब में मिला लाश हत्या की आशंका क्षेत्र में फैली सनसनी
Image
प्रधानमंत्री जी ने नोयडा अन्तराष्ट्रीय विमानतल की रखी आधारशिला जो एशिया का सबसे बड़ा एयरपोर्ट होगा नोएडा इण्टरनेशनल एयरपोर्ट
Image
दर्दनाक हादसा ट्रैक्टर थ्रेसर मे धान डालते समय धान के साथ थ्रेसर में गया ट्रेक्टर ड्राइवर हुई मृत्यु
Image
परसौना मे भीषण सड़क हादसा हादसे में कार और आटो की जोरदार टक्कर हुई क्षतिग्रस्त
Image
बैढ़न तहसील में पदस्थ बाबू वह अधिवक्ता द्वारा फर्जी अंगूठा लगाकर दूसरे के नाम वसीयत करा लेने का मामला आया प्रकाश में
Image