ब्रेकिंग-परिषदीय स्कूलों में कार्यरत तीन फर्जी शिक्षकों के विरुद्ध हुआ मुकदमा दर्ज

ब्रेकिंग-परिषदीय स्कूलों में कार्यरत तीन फर्जी शिक्षकों के विरुद्ध हुआ मुकदमा दर्ज


✍ व्यूरो चीफ - अनुराग सिंह गंगवार फर्रुखावाद 




03/07/2020 फर्रुखावाद - कायमगंज रिटर्न विश्वकाशी (RV NEWS LIVE)- कायमगंज फर्जी शैक्षिक अभिलेखों से प्राप्त डिग्रियों के आधार पर बहुत से लोग बेसिक शिक्षा परिषद में अध्यापक के पद पर पिछले कई सालों से नौकरी करते चले आ रहे हैं ।अपने सेवाकाल के दौरान ही कुछ शिक्षक तो विभागीय प्रमोशन पाकर सहायक अध्यापक से प्रधानाध्यापक तक बन चुके। इस फर्जीवाड़ा का खेल विभाग में इतने बड़े पैमाने पर और लंबे समय से खेला जाता रहा। लेकिन विडंबना ही कही जा सकती है कि किसी भी अधिकारी ने गंभीरता पूर्वक इस प्रकरण को संज्ञान में आखिर लिया क्यों नहीं यह प्रश्न इस फर्जीवाड़े के खेल से शिक्षक की नौकरी पाने वाले प्रकरण में आज भी अनुत्तरित बना हुआ है Iखैर जो भी हो सत्य और असत्य के बीच एक बड़ा अंतर तो होता ही है। सच्चाई तो किसी न किसी दिन उजागर होनी ही थी। वह अब होने लगी तमाम कानूनी दांव पेचों के भवंर में पडने के बाद आखिर मुन्ना भाइयों की असलियत सामने आने लगी। फर्जी डिग्रियों से नौकरी पाने वाले तीन शिक्षकों के विरुद्ध आज कोतवाली कायमगंज में खंड शिक्षा अधिकारी शमशाबाद की तहरीर पर अभियोग पंजीकृत हो गया। इनमें से एक हैं प्रधानाध्यापक राजू सिंह पुत्र लालाराम राठौर प्राथमिक विद्यालय कुआं खेड़ा खास व दूसरे सहायक अध्यापक श्री कृष्ण पुत्र रामस्वरूप प्राथमिक विद्यालय  भुकसा मूलनिवासी जनपद एटा तथा तीसरे  सहायक अध्यापक विजय सिंह पुत्र रुकमंगल सिंह प्राथमिक विद्यालय अहमद गंज यह सभी शमशाबाद विकासखंड के इन्हीं स्कूलों में शिक्षक पद पर नौकरी करके अब तक हजारों रुपए प्रतिमाह वेतन लेकर जहां एक ओर सरकारी धन को चूना लगाते रहे। वहीं दूसरी ओर सही ढंग से डिग्री प्राप्त करने वाले अभ्यर्थी नौकरी पाने से इन्हीं लोगों की जालसाजी के कारण वंचित होते रहे।


Popular posts
माड़ा पुलिस ने अवैध रेत परिवहन करते तीन ट्रैक्टरों को किया जप्त। 
Image
महाराजगंज-अपने ही पिता को शादी का झांसा देकर बेटी ने किया जमीन पर कब्जा
Image
जौनपुर। युवक के ब्लाइंड मर्डर की किया खुलासा, पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार कर भेजा जेल
Image
जौनपुर। क्षेत्राधिकारी विजय सिंह के नेतृत्व में नगर में हुआ पुलिस का फ्लैगमार्च
Image
वेस्ट की जेलों में चल रहे खुलेआम मोबाइल- शासन प्रशासन मौन 
Image