एनसीएल की खदानों में जारी है दुर्घटनाएं दुधिचुआ खदान में फिर हुआ हादसा, हॉपर में गिरा होलपैक

एनसीएल की खदानों में जारी है दुर्घटनाएं दुधिचुआ खदान में फिर हुआ हादसा, हॉपर में गिरा होलपैक


आर वी न्यूज़ जिला ब्यूरो चीफ विवेक पाण्डेय



मध्य प्रदेश जिला सिंगरौली रिर्टन विश्वकाशी (RV NEWS LIVE) व्यूरो न्यूज- सुरक्षा का दम भरने वाली एनसीएल की कोल खदानों में लापरवाही का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि 24 घंटे के भीतर दूधिचुआ खदान में दो दुर्घटनाएं हो गई। कल फायर फाइटिंग में लगे वाटर टैंकर ने वाहन पीछे करते समय एक बोलेरो को रौंद डाला था जिसमें बोलेरो चालक गंभीर रूप से घायल हो गया था। इस घटना को अभी 24 घंटे भी नहीं बीते थे कि आज फिर दूधिचुआ सीएचपी में एक हादसा पेश आया, जहां वाहन बैक करते समय होलपैक सीएचपी के हॉपर में जा गिरा। गनीमत यह रही कि उस समय कोई पीछे नहीं खड़ा था नहीं तो एक बड़ा हादसा हो जाता। बताया जाता है कि होलपैक ऑपरेटर ने तेज गति से वाहन बैक किया जिस कारण वह हॉपर में जा गिरा। इस घटना के बाद घंटो तक लोडिंग का कार्य प्रभावित रहा। वहीं फिर घटी घटना की जानकारी मिलते ही प्रबंधन के लोगों में हंगामा मच गया। आनन-फानन में सभी आला अधिकारी घटनास्थल पर पहुंच कर होलपैक को बाहर निकालने में जुट गए। कई घंटों की कड़ी मशक्कत के बाद वाहन को हॉपर से बाहर निकाला जा सका। बताया जाता है कि हॉपर के पास  स्टॉपर भी लगाए गए हैं, जिसके बावजूद यह दुर्घटना लापरवाही को उजागर करती है। वही लगातार हो रहे दुर्घटनाओं से श्रमिकों में रोष व्याप्त है। खदानों में लगातार हो रही घटना से एनसीएल की कार्यप्रणाली और सुरक्षा के उपाय पर सवाल खड़ा होना लाजमी है क्योंकि सुरक्षा सप्ताह के साथ करोड़ों रुपए का खर्च कर एनसीएल प्रबंधन श्रमिकों की सुरक्षा का दम भरती है।


Popular posts
स्कूल से कक्षा दसवीं का लापता छात्र स्कूल के पीछे तालाब में मिला लाश हत्या की आशंका क्षेत्र में फैली सनसनी
Image
प्रधानमंत्री जी ने नोयडा अन्तराष्ट्रीय विमानतल की रखी आधारशिला जो एशिया का सबसे बड़ा एयरपोर्ट होगा नोएडा इण्टरनेशनल एयरपोर्ट
Image
दर्दनाक हादसा ट्रैक्टर थ्रेसर मे धान डालते समय धान के साथ थ्रेसर में गया ट्रेक्टर ड्राइवर हुई मृत्यु
Image
परसौना मे भीषण सड़क हादसा हादसे में कार और आटो की जोरदार टक्कर हुई क्षतिग्रस्त
Image
बैढ़न तहसील में पदस्थ बाबू वह अधिवक्ता द्वारा फर्जी अंगूठा लगाकर दूसरे के नाम वसीयत करा लेने का मामला आया प्रकाश में
Image