फर्रूखाबाद में पुलिस की कड़ी चेतावनी के बाद भी गंगा में चोरी छिपे विसर्जित हुई मूर्तियां, मूर्ति ले जा रहे लोगों को किया वापस

फर्रूखाबाद में पुलिस की कड़ी चेतावनी के बाद भी गंगा में चोरी छिपे विसर्जित हुई मूर्तियां, मूर्ति ले जा रहे लोगों को किया वापस


संवाददाता सचिन यादव फर्रुखाबाद



जनपद फर्रुखाबाद उत्तर प्रदेश रिर्टन विश्वकाशी (RV NEWS LIVE) व्यूरो न्यूज- फर्रूखाबाद। पुलिस अधीक्षक डा0 अनिल कुमार मिश्र के निर्देशन में शहर कोतवाली पुलिस ने आज शहर में फ्लैग मार्च निकाला। शहर के मुस्लिम इलाकों में गंभीरता से शहर कोतवाल ने माइक से एलाउंसमेंन्ट कर लोगों से अपील की कोई भी गणेश प्रतिमा और ताजिया नही निकालेगा। यदि कोई ऐसा करता है तो उसके विरूद्व गैगेस्टर की कार्यवाही की जायेगी। पूरे शहर में आज पुलिस ने कडी नजर रखी।


बतातें चले कि आज मुस्लिम समाज के ताजिया का जुलूस बडे ही धूमधाम से निकाला जाता था। लेकिन इस बार कोरोना वायरस को लेकर जिला प्रशासन ने जुलूस निकालने पर रोक लगा रखी है। लेकिन फिर भी लोगों ने ताजिया निकाला। जिस पर पुलिस ने सभी को रोका। इस बीच पुलिस से लोगों की नोकझोंक भी हुई। इतना ही नही गणेश भक्तांे ने पुलिस को चक्मा देकर कई मूर्तिया भी गंगा में विसर्जित की है। जिसकी पुलिस को भनक तक नही लग सकी। जो मूर्ति को पुलिस ने देख लिया। उसे बापस कर दिया और कडी चेतावनी दी कि यदि मूर्ति का विसर्जन हुआ तो मुकदमा दर्ज किया जायेगा।


शहर के लालगेट पर तैनात कादरीगेट चैकी प्रभारी हरि ओम प्रकाश त्रिपाठी ने गणेश प्रतिमा ले जा रहे लोगांे को वहीं रोक लिया और उनसे बापस जाने को कहा। जिस पर लोग गणेश प्रतिमाएं बापस ले गये। लेकिन वह दूसरी रास्ते से गंगा घाट पर पहुंचे और मूर्तियों का विसर्जन किया। पिछले वर्ष शासन के आदेश पर गणेश प्रतिमाओं का भू विसर्जन कराया गया था। लेकिन इस बार रोक के बाद भी गंगा में मूर्तियों का विसर्जन हुआ। आज कई स्थानों पर रखी गई प्रतिमाओं का गंगा में विजर्सन हुआ। शहर कोतवाल शहर में मार्च कर रहे थे उसी समय नेहरू रोड पर कार में रखकर गणेश प्रतिमा को पांचालघाट विसर्जन के लिए ले जाया जा रहा था। जिसे कोतवाल वेद प्रकाश पाण्डेय ने रोक लिया और बापस जाने को कहा। जिस पर लोगों की नोकझोंक भी हुई। लेकिन पुलिस ने मूर्ति का विसर्जन करने से साफ इंकार कर दिया। पुलिस प्रशासन द्वारा लगाई गई रोक के बाबजूद भी भक्तों ने पूजा अर्चना करने के बाद मूर्तियों को गंगा में विसर्जित किया।


फ्लैग मार्च के दौरान कई मंदिरों में पुलिस काफी भीड मिली। जिस पर शहर कोतवाल ने पुजारी को हडकाते हुए सख्त हिदायत दी कि यदि दोबारा मंदिर में भीड दिखी तो खैर नही होगी। नगर क्षेत्राधिकारी मन्नी लाल गौड, नगर मजिस्ट्रेट अशोक कुमार मौर्य, शहर कोतवाल वेद प्रकाश पाण्डेय व थानाध्यक्ष मऊदरवाजा ने घुमना से लेकर चैक, पक्कापुल, गुदडी, नाला मछरट्टा, नखास, मनिहारी, साहवगंज चैराहा आदि स्थानों पर पूरी फोर्स के साथ फ्लैग मार्च निकाला और माइक से एलाउंसमेंट कर लोगों को ताजिया और गणेश यात्रा न निकालने की हिदायत दी।


Popular posts
नदी नहाने गए लड़के की डुबने से हुई मौत-
Image
बकरी चराने गए व्यक्ति के ऊपर भालू ने किया अटैक दूसरे दिन मिला मृतक का डेड बॉडी क्षेत्रीय वासी भालू से परेशान
Image
सिंगरौली सुलियरी कोल माइंस में लगातार चल रहे धरने को प्रशासन ने 144 धारा आचार संगिता के उल्लंघन कह कर करवाया बंद
Image
नवानगर पुलिस ने सूदखोरी कर रहे 2 आरोपी धाराए, स्कॉर्पियो, 8 मोटरसाइकिल समेत चेक बुक बरामद
Image
उत्तर प्रदेश के एक ब्राह्मण नेता की बेटी व सिंगरौली जिले के एक साहू समाज के बेटे की शादी को लेकर बधाइयां
Image