मध्य प्रदेश में साधना फाउंडेशन चैरिटेबल ट्रस्ट (NGO) के संस्थापक/राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री नवरतन कुमार दुबे जी के द्वारा जिला अध्यक्ष श्री विवेक पांडेय जी के सौजन्य से लोगों को बांटा गया खाद्य पदार्थ भोजन एवं मास्क

मध्य प्रदेश में साधना फाउंडेशन चैरिटेबल ट्रस्ट (NGO) के संस्थापक/राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री नवरतन कुमार दुबे जी के द्वारा जिला अध्यक्ष श्री विवेक पांडेय जी के सौजन्य से लोगों को बांटा गया खाद्य पदार्थ भोजन एवं मास्क


जिला सिंगरौली मध्य प्रदेश ब्यूरो चीफ विवेक पांडेय की खास रिपोर्ट



जिला सिंगरौली मध्य प्रदेश मे आज दिनांक 27 मई 2021 को साधना फाउंडेशन चैरिटेबल ट्रस्ट (NGO) के संस्थापक राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री नवरतन कुमार जी के द्वारा एवं सिंगरौली जिला अध्यक्ष श्री विवेक पांडेय जी सिंगरौली उपाध्यक्ष श्री प्रदीप कुमार शाह जी व समस्त साधना फाउंडेशन चैरिटेबल ट्रस्ट के मेंबर व कार्यकर्ता गण के सौजन्य से ग्राम पंचायत खनुआं नवा, ग्राम पंचायत गजरा बहरा,ग्राम पंचायत भलयाटोला, ग्राम पंचायत गोरा,मायापुर, ग्राम पंचायत जमगढी, बुधेर गांव एवं अमिलिया व अन्य गांव में ज्यादा से ज्यादा लोगों को भोजन और मास्क किया गया वितरण, 



साधना फाऊंडेशन चैरिटेबल ट्रस्ट के द्वारा गरीब और असहाय व्यक्ति के लोगों को और उनके परिवार एवं बच्चों का मदद हर जिले और हर क्षेत्र में कर रहा है इसमें साधना फाउंडेशन चैरिटेबल ट्रस्ट के सभी कार्यकर्ता गण मेहनत और ईमानदारी से अपना कर्तव्य निष्ठा निभा रहे हैं यह कोरोनावायरस जैसे संक्रमित बीमारी में भी साधना फाउंडेशन चैरिटेबल ट्रस्ट के समस्त कार्यकर्ता गण अपनी जान जोखिम में डालकर लोगों की भूख मिटा रहे असहाय व्यक्तियों को खाना कपड़ा मांस सैनिटाइजर इत्यादि चीजों का वितरण कर रहे हैं 



साधना फाऊंडेशन चैरिटेबल ट्रस्ट आज कई दिनों से अलग-अलग क्षेत्रों व कस्बों में तथा रोड व झुग्गी झोपड़ियों में अपनी मेहनती टीम के द्वारा लोगों को भोजन हुआ अन्य सुविधा पहुंचाने की भरपूर कोशिश कर रही है पहुंचा रही है वही सिंगरौली जिला अध्यक्ष श्री विवेक पांडे जी व उपाध्यक्ष श्री प्रदीप शाह जी का कहना है कि हमारे संस्था के रहते किसी भी व्यक्तियों को भूखा नहीं रहना पड़ेगा हम सब पूरी टीम मिलकर जहां तक जितना हो सकता है सभी भूखे लोगों का पेट भरने की कोशिश करेंगे हर मोहल्ला हर कस्बा हर गांव में जाकर खाना सैनिटाइजर मास्क कपड़े इत्यादि चीज का वितरण करवाने की कोशिश करेंगे 



साधना फाउंडेशन चैरिटेबल ट्रस्ट के डायरेक्टर श्री नवरतन दुबे जी का कहना है कि जब तक हम सब अपने आप में एक परसेंट के भी सक्षम हैं तब तक हमारा गरीब व असहाय बच्चे महिला व व्यक्तियों के लिए यह कार्य चलता रहेगा क्योंकि लॉकडाउन का असर हर उद्योगपतियों से लेकर निचले व्यवसाय व्यापारियों तक को असर पड़ा हुआ है एक गरीब व्यक्ति जो रोज कमाते हैं और फिर भी पेट भर नहीं खा पाते हैं 



ऐसे में उनके घर के बच्चे भूखे रहते होंगे घर की महिलाएं बुजुर्ग माता-पिता जो असहाय हैं बुजुर्ग हैं निर्बल हैं ऐसे लोगों की मदद कौन कर सकता है जबकि उनका खुद का बेटा कमा नहीं पा रहा है लॉकडाउन की वजह से ऐसे में हर संस्था हर पूंजीपतियों हर पैसे वालों को चाहिए कि अपने आसपास के लोगों की जो गरीब तबके के बच्चे, बुजुर्ग,महिला हैं उनके खाने-पीने का विशेष ध्यान दें और हो सके तो उनके पहनने वाले कपड़े दिलाने पर भी ध्यान देने की कोशिश करें अब आगे बरसात का मौसम आने वाला है अगर आपके पास सर छुपाने का जगह नहीं है तो उन्हें प्लास्टिक तिरपाल इत्यादि दिलवाने की कृपा करें जिससे वह बरसात के पानी से अपने माता-पिता महिलाओं बच्चों का सर छुपा सके 



साधना फाऊंडेशन चैरिटेबल ट्रस्ट के संस्थापक श्री नवरतन कुमार दुबे जी का कहना है कि हम सरकार के वादे और इरादे के भरोसे नहीं बैठ सकते हैं क्योंकि हम सरकार के हर वादे को देख रहे हैं जो विफल होता नजर आ रहा है सरकार अपना पूरी तरीके से किसी भी कार्य को पूर्ण रूप से ईमानदारी से नहीं निभा पा रही है क्योंकि उनके जो भी सरकारी कर्मचारी हैं उनके अंदर घुस अघोरी इतना ज्यादा छा गया है जब तक उन्हें घुस नहीं मिलेगा तब तक कोई कार्य नहीं कर सकते 



हर जगह गरीबों को कोटेदार अपने कोटे से लोगों को 20 किलो अनाज देने का वादा करते हैं लेकिन कोटेदार वहां पर उनको 15 किलो 10 किलो अनाज देकर भगा देते हैं विरोध करने पर उन्हें अनाज देना भी बंद कर देते हैं यह गरीबों की किस्मत कि उनके हक का अनाज भी उन्हें नहीं मिल पाता है इस पर वहां के आसपास के क्षेत्रीय अधिकारी किसी भी कार्य को पूर्ण रूप से ईमानदारी से नहीं कर रहे हैं क्योंकि कोटेदार के तरफ से हर अधिकारियों के पास पर हर जगह गरीबों को कोटेदार अपने कोटे से लोगों को 20 किलो अनाज देने का वादा करते हैं लेकिन कोटेदार वहां पर उनको 15 किलो 10 किलो अनाज देकर भगा देते हैं विरोध करने पर उन्हें अनाज देना भी बंद कर देते हैं यह गरीबों की किस्मत कि उनके हक का अनाज भी उन्हें नहीं मिल पाता है इस पर वहां के आसपास के क्षेत्रीय अधिकारी किसी भी कार्य को पूर्ण रूप से इमानदारी से नहीं कर रहे हैं क्योंकि कोटेदार के तरफ से हर अधिकारियों के पास मे पैसा जा रहा है



सरकार दोगली रवैया अपनाकर के काम कर रही है एक तरफ पूजी पतियों को बढ़ावा दे रही है तो दूसरी तरफ गरीबों को बद से बदतर बना के रखा हुआ है यानी उन्हें दो वक्त की रोटी भी कमाना उनके लिए मुश्किल हो गया है सरकार को चाहिए या तो पूर्ण रूप से लॉकडाउन लगा करके रखें नहीं तो गरीब असहाय जो लोग अपना छोटा मोटा साग -सब्जी, चाय- पान, रिक्शा इत्यादि का बिजनेस करके अपने परिवार का जीविका का आयोजन कर रहे हैं ऐसे लोगों के लिए भी कम से कम 4 घंटे का अपना धंधा करने का टाइम दिया जाए क्योंकि सरकार के इस रवैया से लोगों की मानसिकता में दोगली मानसिकता पैदा हो रही है क्योंकि उनके अंदर नफरत पैदा हो रहा है कि सरकार बड़े लोगों को बढ़ा रहा है और छोटे लोगों को दबा रहा है 



साधना फाऊंडेशन चैरिटेबल ट्रस्ट के संस्थापक श्री नवरत्न कुमार दुबे जी ने लोगों से अनुरोध किया है कि वह हमारे संस्था में बढ़ चढ़कर हिस्सा लें और संस्था की मदद करें जिससे कि हम हर गरीब हाय व्यक्तियों की मदद कर सकें हम से संपर्क करने के लिए व संस्था से जुड़ने के लिए हमारे वेबसाइट से लिंक करें  www.sadhanafoundationcharitabletrust.org   तथा फोन नंबर से कांटेक्ट करें -9136791260



Popular posts
प्रेमी ने पहले रेप किया,फिर मंदिर में शादी,बस 1 घंटे की दुल्हन बनकर रह गई लड़की,आगरा के सिकंदरा चौराहा स्थित होटल में एक लड़की से रेप का मामला सामने आया है
Image
मध्य प्रदेश में गरीबों को थैले में मिलेगा उचित मूल्य की दुकान से राशन, सीएम शिवराज
Image
सिंगरौली जिले में शाहवाल बस अनियंत्रित होकर पलटी,करीब दर्जन भर लोग हुए घायल
Image
शादी में प्रेमिका की फिल्मी एंट्री ने खोला बड़ा राज, आखिर में छोटा भाई ले गया दुल्हन
Image
सरई थाना अंतर्गत गजरा बहरा में मुख्य मार्ग पर रोड की है हालत खराब कहने को तो है प्रधानमंत्री रोड
Image