कक्षा 10 और 12 के छात्रों की परीक्षा शुल्क वापस करने का सवाल ही नहीं उठता। - शिक्षा मंत्री

कक्षा 10 और 12 के छात्रों की परीक्षा शुल्क वापस करने का सवाल ही नहीं उठता। - शिक्षा मंत्री 

आर वी न्यूज़ लाइव से संवाददाता धर्मेन्द्र शाह की खाश रिपोर्ट



जिला सिंगरौली मध्यप्रदेश रिर्टन विश्वकाशी ( RV NEWS LIVE ) ब्यूरो न्यूज़/ सुर्खियों में रहने वाले भाजपा विधायक नारायण त्रिपाठी ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से कक्षा 10 और 12 के छात्रों की परीक्षा शुल्क वापस करने का आग्रह किया है क्योंकि परीक्षाएं नहीं हो रही हैं। 

मैहर से भाजपा विधायक त्रिपाठी ने मुख्यमंत्री से मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा बोर्ड को 10वीं और 12वीं कक्षा के छात्रों की परीक्षा शुल्क वापस करने का निर्देश देने का अनुरोध किया है। महामारी को देखते हुए बच्चों की सुरक्षा को देखते हुए दोनों कक्षाओं की परीक्षा रद्द कर दी गई है। .

विधायक त्रिपाठी ने कहा,राज्य शिक्षा बोर्ड ने परीक्षा शुल्क के रूप में अर्जित सारा पैसा बचा लिया है। बोर्ड ने परीक्षा की प्रतियां, प्रश्न पत्र और परीक्षा आयोजित करने के लिए होने वाले अन्य खर्चों को बचाया है।

शिक्षा बोर्ड छात्रों से परीक्षा शुल्क (Exam Fees) के रूप में करीब 900 रुपये लेता है। इस साल बोर्ड ने लेट फीस लिया गया। इस साल 10वीं और 12वीं कक्षा के 19 लाख से अधिक छात्रों ने परीक्षा शुल्क जमा किया था। एमपी बोर्ड को दी जाने वाली कुल फीस करीब 180 करोड़ रुपए है।

MLA त्रिपाठी ने कहा कि कोरोना ने समाज के सभी वर्गों पर प्रतिकूल प्रभाव डाला है और इस तथ्य को ध्यान में रखते हुए शिक्षा बोर्ड को परीक्षा शुल्क वापस करना चाहिए। 

इससे पहले कांग्रेस की छात्र इकाई एनएसयूआई ने भी परीक्षा शुल्क वापस करने की मांग की थी और बोर्ड के अधिकारियों से मुलाकात की थी। 


 फीस (Exam Fish) वापसी का सवाल ही नहीं उठता। – शिक्षा मंत्री 

हालांकि, स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार ने स्पष्ट रूप से कहा था कि स्कूल को वापस नहीं किया जाएगा क्योंकि प्रश्न पत्र छप चुके हैं और सभी व्यवस्थाएं कर ली गई हैं। हम परीक्षा आयोजित करने के लिए तैयार थे लेकिन छात्रों के हित में परीक्षा रद्द कर दी गई थी। परमार ने मंगलवार को कहा था कि शुल्क वापसी का सवाल ही नहीं उठता।

Popular posts
सिंगरौली जिले में कोयला मंत्री प्रह्लाद जोशी का एनसीएल दौरा
Image
सिंगरौली जिले के एनटीपीसी पावर प्लांट में एक अधेड़ उम्र के व्यक्ति की पानी के चैनल में गिरने से मौत
Image
मुहम्मदपुर फेटी कि घटना का अभी तक नहीं हुआ खुलासा,खुली आंख वाले प्रशासन ने वादी को अन्धा दिखाकर निर्दोष पत्रकार को भेजा गया जेल प्रशासन ने मौके की विवेचना करना जरूरी नहीं समझा
Image
21 अक्टूबर से 23 अक्टूबर तक जिले के सभी वन ग्राम समितियो की बैठक होगी आयोजित वन अधिकार सामुदायिक एवं व्यक्तिगत दावो का बैठक के दौरान किया जायेगा निराकरणः-कलेक्टर
Image
छत्तीसगढ़ में दुर्गा विसर्जन के जुलूस पर चढ़ाई कार एक की मौत, 26 से ज्यादा लोग घायल
Image