14 वर्षीय नाबालिग लड़की का अपहरण कर 14 दरिंदो ने 48 घंटे तक किया बलात्कार, लड़की की मां ने कहा बेटी बनना चाहती थी अफसर

14 वर्षीय नाबालिग लड़की का अपहरण कर 14 दरिंदो ने 48 घंटे तक किया बलात्कार, लड़की की मां ने कहा बेटी बनना चाहती थी अफसर 




महाराष्ट्र के पुणे रेलवे स्टेशन के पास से 14 साल की एक लड़की का कथित रूप से अपहरण कर लिया गया और शहर में कई स्थानों पर उससे बलात्कार किया गया। पुलिस ने बताया कि इस वारदात के बाद 13 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इनमें छह ऑटोरिक्शा ड्राइवर हैं जबकि दो रेलवे के कर्मचारी हैं। इससे पहले थाने में गुमशुदगी की एक रिपोर्ट दर्ज करायी गई थी।

पुलिस अधिकारी ने बताया, ‘गुमशुदगी के मामले की जांच के दौरान रविवार को हमें एक लड़की का पता चला। लड़की ने पुलिस को बताया कि उसका अपहरण कर उससे बलात्कार किया गया है।’ लड़की 31 अगस्त को अपना घर छोड़कर पुणे रेलवे स्टेशन पहुंची जहां से उसे अपने दोस्त से मिलने के लिए ट्रेन में सवार होना था।

मदद करने के नाम पर किया अपहरण



उन्होंने बताया, ‘आरोपी ऑटोरिक्शा चालकों ने लड़की को देखा और वह समझ गए कि वह अकेली है। उन लोगों ने उससे कहा कि जिस ट्रेन को वह खोज रही है वह कल आएगी। उन लोगों ने उससे वादा किया कि वह उसका सहयोग करेंगे और रात में रहने की व्यवस्था भी कर देंगे।’ इसके बाद ऑटोरिक्शा चालकों ने कई स्थानों पर ले जाकर उससे बलात्कार किया। पुलिस ने पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया है और गिरफ्तार लोगों से पूछताछ की जा रही है।

महाराष्ट्र के पुणे में 14 वर्षीय नाबालिग लड़की के साथ गैंगरेप की दिल दहला देने वाली वारदात आई है सामने जो समाज को शर्मसार कर रहा है एक 14 वर्षीय  नाबालिग लड़की को आप अपहरण कर 5 स्थानों में कुल 14 दरिंदों ने 48 घंटे तक सामूहिक बलात्कार करते रहें. पीड़िता खाना और तन ढकने के लिए कपड़े मांगती रही लेकिन उन दरिंदों ने लड़की को वह भी नहीं दिया जो दिल दहला देने वाली यह घटना है ऐसे दरिंदों को सजा-ए-मौत होनी चाहिए,गैंगरेप की यह वारदात पुणे से शुरू हुई और मुंबई होते हुए चंडीगढ़  तक होती रही अब 14 वर्षीय नाबालिग लड़की की हालात ऐसी है कि वह मर्दों को देखते ही डर जाती है, चीखने चिल्लाने लगती है. परिजनों का कहना है की उसे एक बड़ा अफसर बनना था, लेकिन उसका सपना चकनाचूर होते हुए दिख रहा है,मामले में पुणे पुलिस ने 14 आरोपियों को गिरफ्तार किया है और सलाखों के पीछे भेज दिया. इधर नाबालिक लड़की भी पुणे के एक अस्पताल में भर्ती है, जिसकी हालत अब खतरे से बाहर बताई जा रही है. शारीरिक जख्म भले ही भर जाएं, लेकिन उसे जो मानसिक आघात हुआ है, वह शायद पूरी जिंदगी नहीं भरने वाला.


14 वर्षीय नाबालिग लड़की के साथ घटित घटना के बारे में जाने क्या है पूरा मामला



DCP नम्रता पाटिल के अनुसार 14 वर्षीय नाबालिक लड़की के माता-पिता बेहद गरीब हैं, 31 अगस्त की रात साढ़े 10 बजे नाबालिग लड़की बिना किसी को बताए घर से अपने 19 साल के दोस्त से मिलने एक ऑटो रिक्शा से पुणे स्टेशन के लिए निकल गई. लेकिन उसका दोस्त वहां नहीं मिला तो वह रोने लगी तभी वहां पर पहुंचा ऑटोरिक्शा चालकों ने लड़की को देखा और वह समझ गए कि वह अकेली है। उन लोगों ने उससे कहा कि जिस ट्रेन को वह खोज रही है वह कल आएगी। उन लोगों ने उससे वादा किया कि वह उसका सहयोग करेंगे और रात में रहने की व्यवस्था भी कर देंगे ऑटो ड्राइवर ने लड़की को यह कहकर किसी अनजान जगह पर लेकर गया नाबालिक लड़की ने ऑटो ड्राइवर के ऊपर भरोसा कर उसके साथ चली गई फिर जो हुआ वह बहुत ही शर्मसार करने वाली घटना 


DCP पाटिल ने बताया कि पीड़िता लगातार चिलाते हुए उनके आगे हाथ जोड़ती रही, लेकिन आरोपियों ने उसे बिना कपड़े के नग्न अवस्था में कमरे में बंद रखा था हर कुछ घंटे के बाद एक नया शख्स आता और नाबालिग लड़की के साथ जिसमें से खेलता और बलात्कार करता, नाबालिक लड़की लगातार कपड़े और खाने की मांग कर रही थी लेकिन किसी को उस 14 वर्षीय नाबालिग लड़की पर रहम नहीं आया, बालात्कार करने के बाद आरोपी नाबालिक लड़की को धमका भी रहे थे कि अगर उसने बाहर जाने के बाद किसी को कुछ बताया तो उसे जान से मार डालेंगे


 नाबालिक लड़की के साथ 12 आरोपियों ने पुणे में बलात्कार किया



ऑटो ड्राइवर ने लड़की का अपहरण किया और एक सुनसान जगह ले जाकर उसके साथ बलात्कार किया इसके बाद उसने अपने एक दोस्त को बुलाया और नाबालिग लड़की को उसे सौंप दिया. इसके बाद लड़की को एक होटल में ले जाकर तीन अन्य लोगों ने उसके साथ बारी-बारी से बलात्कार किया अगले दिन भी इसी होटल में चार और लोगों ने पीड़ित नाबालिक लड़की को अपनी हवस का शिकार बनाया फिर आरोपी लड़की को लेकर एक रूम में गए और वहां भी कई बार उसके साथ बलात्कार  किया, 12 आरोपियों ने नाबालिक लड़की के साथ पुणे के विश्रांतवाड़ी, विमान नगर, कोंढवा और कुछ अन्य स्थानों पर ले जाकर बारी-बारी से बेरहमी के साथ बलात्कार किया


पुणे में लड़की की तबीयत बिगड़ने के बाद आरोपियों में से एक लड़की को लेकर बस से मुंबई के दादर पहुंचा और उसे रेलवे स्टेशन के टिकट काउंटर पर तैनात एक रेलकर्मी को सौंप दिया आरोप है कि वह रेल कर्मचारी ने भी कमरे में ले जाकर उसके साथ बलात्कार किया और उसके दोस्त को बुलाकार उसे सौंप दिया. इसके बाद दोनों एक ट्रेन से मंगलवार को चंडीगढ़ स्टेशन पहुंचे वहां लड़की को गंभीर हालत में देख GRP के जवानों को उन पर शक हुआ. कुछ देर की पूछताछ के बाद उन्हें प्रोजेक्ट डारेक्टर चाइल्ड लाईन को सौंप दिया गया.

 

हवाई जहाज से आई पुणे पुलिस की टीम नाबालिग को लेकर वापस गई 


 प्रोजेक्ट डारेक्टर चाइल्ड लाईन की डारेक्टर संगीता जंड ने बताया कि पहले तो उन्हें लगा कि लड़की घर से भागी हुई है लेकिन जब उन्होंने नाबालिग की काउंसलिंग कि तो मामले में एक के बाद एक खुलासा होता गया इसके बाद उन्होंने पुणे पुलिस से जानकारी ली तो पता चला कि वहां पर एक लड़की की गुमशुदा होने का मामला दर्ज किया गया है. मामले की गंभीरता को देखते हुए पुणे पुलिस की टीम हवाई मार्ग से आकर नाबालिग लड़की को अपने साथ मुंबई लेकर गई.


 पुलिस ने खांगले 100 से ज्यादा CCTV फुटेज


आरोपियों को पकड़ने के लिए पुलिस ने पुणे रेलवे स्टेशन के बाहर और अंदर लगे 100 से ज्यादा CCTV कैमरों को कई घंटे तक खंगाले पर एक CCTV कैमरे में लड़की की तस्वीर और ऑटो का नंबर मिला. इसके बाद एक आरोपी को पकड़ कर उससे पूछताछ शुरू हुई. कुछ ही घंटे में उसने अपना गुनाह कबूल करते हुए अपने अन्य साथियों का पता बता दिया. सभी 14 आरोपियों को अदालत में पेश कर दिया गया. अदालत ने उन्हें 10 दिन की पुलिस कस्टडी में भेज दिया है. DCP पाटिल का कहना है कि हम लॉज के मालिक की भूमिका की भी जांच कर रहे हैं.

Popular posts
शेख हारून अली के नेतृत्व में प्रदेश अध्यक्ष समाजवादी पार्टी नरेश उत्तम का हुआ जोरदार स्वागत
Image
सिंगरौली जिले के कांग्रेश नेता भास्कर मिश्रा को अज्ञात लोगों ने बेहतरीन पीटा मामला दर्ज
Image
सिंगरौली जिले के प्रभारी मंत्री श्री ब्रजेंद्र प्रताप सिंह ने शक्तिनगर स्थित मां ज्वालामुखी का दर्शन व पूजन कर लिया आशीर्वाद
Image
प्रदेश सरकार के द्वारा मुर्गी पालन के साथ ही बकरी पालन को भी दे बड़ावा :- प्रभारी मंत्री श्री सिंह
Image