बैढ़न तहसील में पदस्थ बाबू वह अधिवक्ता द्वारा फर्जी अंगूठा लगाकर दूसरे के नाम वसीयत करा लेने का मामला आया प्रकाश में

बैढ़न तहसील में पदस्थ बाबू व अधिवक्ता द्वारा फर्जी अंगूठा लगाकर दूसरे के नाम वसीयत करा लेने का मामला आया प्रकाश में   

ब्यूरो चीफ विवेक पाण्डेय की खास रिपोर्ट 



जिला सिंगरौली मध्यप्रदेश रिर्टन विश्वकाशी (RV NEWS LIVE) ब्यूरो न्यूज़- बैढ़न तहसील में पदस्थ बाबू व अधिवक्ता द्वारा फर्जी अंगूठा लगाकर दूसरे के नाम वसीयत करा लेने का मामला प्रकाश में आया है। पौड़ी नौगई निवासी परमसुख बसोर पिता चतुरगुन बसोर ने कलेक्टर को आवेदन देकर आरोप लगाया है कि तहसीलदार परसौना परिक्षेत्र के न्यायालय में वसीयत का प्रकरण प्रस्तुत किया था। जिसे करने के लिए मेरे अधिवक्ता व तहसीलदार के रीडर ने हमसे 50 हजार रुपए की मांग की थी। चुंकि मैं गरीब अशिक्षित व्यक्ति हूं इसलिए इतनी बड़ी राशि देने से मना कर दिया था। जब दूसरी पेशी पर पहुंचा तो मुझे जानकारी हुई कि मेरा फर्जी अंगूठा लगाकर वसीयत को अरविंद बसोर के नाम हस्तांतरित कर दिया गया है। मेरे व मेरे दूसरे अधिवक्ता के समक्ष ही फाईल से रीडर ने मेरे मूल दस्तावेज निकाल लिए। जिस पर मैंने उनसे पूछा था कि कागज क्यों निकाल रहे हैं तो उन्होंने कहा था कि कागज निकाला जाता है। मेरे द्वारा ली गयी नकल से पता चला कि मेरे प्रकरण में मेरी जानकारी में कुछ भी नहीं हुआ है सब कुछ जानता हूं इस फर्जीवाड़े में पटवारी पौड़ी नौगई के पति अधिवक्ता शेषमणि वैश्य रीडर अवनीश पाण्डेय शामिल हैं इसलिए मेरे प्रकरण का विधिवत जांच कराते हुए मुझे न्याय दिलवाया जाए। नहीं तो कलेक्टरके ऑफिस के सामने अपने आप को खत्म कर लूंगा जिसके जिम्मेदार कलेक्टर होंगे



Popular posts
नोएडा की मिस राशि चौहान कई मिस स्टारों को पीछे छोड़ चुनी गई "मिस दिल्ली स्टार 2022" पूरे फंक्शन में खुशी की लहर
Image
सिंगरौली जिले के वर्षगांठ के उपलक्ष्य में द सिंगरौली फाइल्स हुआ रिलीज़
Image
एसएचओ शक्तिनगर पर अवैध वसूली के लगे गंभीर आरोप,जांचकर्ता अधिकारी नियुक्त हुए क्षेत्राधिकारी प्रदीप सिंह चंदेल
Image
अब तक कि पहली बघेली फीचर फ़िल्म प्रीत के बंधन 13 मई को मोहन चित्र मंदिर MCM बैढ़न में
Image
कालरूपी हाइवा वाहन ने मोटरसाइकिल सवार को ठोका, मौके पर हुई मौत, परिजनों पर टूटा दु:ख का पहाड़ परिजन मुआवजा - नौकरी के लिये अड़े,माडा पुलिस ने रात भर काटा बवाल,दी समझाइश
Image