इतनी शिकायतों के बाद भी धड़ल्ले से चल रहा है शशि वैश्य की पत्थर खदान में अवैध खनन

इतनी शिकायतों के बाद भी धड़ल्ले से चल रहा है  शशि वैश्य की पत्थर खदान में अवैध खनन,खनन मानकों के विपरीत व कृषि भूमि तथा अवैध खनन अनियंत्रित ब्लास्टिंग समेत कई आरोपों का है मामला


जिला सोनभद्र उत्तर प्रदेश से ब्यूरो चीफ विवेक पाण्डेय की खास रिपोर्ट



जिला सोनभद्र उत्तर प्रदेश रिर्टन विश्वकाशी (RV NEWS LIVE) ब्यूरो न्यूज़//बिल्ली-ओबरा/सोनभद्र। थाना ओबरा क्षेत्र अंतर्गत बिल्ली ग्राम सभा के ओबरा डिग्री कॉलेज के पीछे शशि वैश्य की पत्थर खदान में बढ़-चढ़कर मानकों की धज्जियां उड़ाते हुए अवैध खनन किया जा रहा है । ऐसा आरोप लगाते हुए भारतीय जनता युवा मोर्चा के मंडल उपाध्यक्ष श्री अनुराग श्रीवास्तव ने 22 मार्च 7 अप्रैल वह मुख्यमंत्री पोर्टल समेत कई जांच एजेंसियां को दिए शिकायत पत्र के कारण एक बार फिर मामला गरमा गया है जिसके कारण नवीन जिलाधिकारी समेत नए खान अधिकारी व खान निरीक्षक तथा अन्य जांच एजेंसियों द्वारा शशि वैश्य की पहाड़ी जो अब मौत के कुएं में तब्दील हो चुकी है फिर भी इसी के आड़ में अवैध खनन का काम किया जा रहा है जल्द ही बड़ी कार्रवाई होने के आसार है क्योंकि इसके बाबत कोई कार्यवाही ना करने के कारण व अन्य कई आरोपों के चलते  पूर्व जिला अधिकारी भ्रष्टाचार में लिप्त पाए जाने कारण निलंबित कर दिए गए  ।स्थानीय लोगों एवं कुशल अधिवक्ताओं के अनुसार यह जमीन नंबर 4826 ढाई एकड़ जोकि गवर्नमेंट ग्रांट की भूमि कृषि के लिए दी गई थी जिसका स्वरूप नहीं बदला जा सकता जिसे फर्जी तरीके से अनुबंध करा कर उसे लीज करा लिया गया। 

मामला यहीं नहीं रुकता ढाई एकड़ की जमीन में खनन कराते कराते अब लीज एरिया से भी अधिक एरिया में अवैध खनन किया जा रहा है सूत्रों की माने तो  बड़े प्रशासनिक अधिकारी की संलिप्तता से यह अब तक संभव हो पाया है। सपा सरकार में उनका वर्चस्व बढ़ चढ़कर रहा है भाई बंधु सहित शशि वैश्य सपा के समर्थक रहे हैं ।किंतु मामला अब मुख्यमंत्री पोर्टल पर भी है और सत्ता पक्ष के भारतीय जनता युवा मोर्चा के मंडल उपाध्यक्ष अनुराग श्रीवास्तव ने भी अवैध खनन के प्रति मोर्चा थाम लिया है जिसके बाद अब  खनन विभाग सोनभद्र में व्याप्त भ्रष्टाचार को समाप्त किया जा सकेगा और खनन मानक के अनुरूप सुचारू रूप से चल सकेगा। जिससे खनन माफियाओं में हड़कंप मच गया है और भय व्याप्त है कि किस किस पर क्या गाज गिर सकती है। तथा खनन माफियाओं और भ्रष्ट अधिकारियों के गठजोड़ का पर्दाफाश हो सकेगा जिसके द्वारा रातों-रात पैसा कमाने की चाह में अप्रत्याशित ब्लास्टिंग करने वाले खनन माफियाओं पर उचित कार्रवाई हो सकेगा ।लगातार दूसरी बार माननीय मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री बनने पर जनता को यह संदेश और भ्रष्टाचारियों को भी यह संदेश प्राप्त हो चुका है कि अब भ्रष्टाचार चलने वाला नहीं है इसीलिए शीघ्र कार्रवाई होने के आसार हैं तथा  तत्कालीन खान अधिकारी द्वारा भ्रष्टाचार को समाप्त करने वाले व जिले में खनन मानकों को ध्यान में रखकर खनन किया जा सकेगा।  देखना यह है कि भ्रष्टाचार को बढ़ावा  दे रहे ऐसी पत्थर खदान पर क्या कार्रवाई की जाती है आम जनता की निगाहें  इसी पर टिकी है।

Popular posts
सिंगरौली जिले के वर्षगांठ के उपलक्ष्य में द सिंगरौली फाइल्स हुआ रिलीज़
Image
एसएचओ शक्तिनगर पर अवैध वसूली के लगे गंभीर आरोप,जांचकर्ता अधिकारी नियुक्त हुए क्षेत्राधिकारी प्रदीप सिंह चंदेल
Image
अब तक कि पहली बघेली फीचर फ़िल्म प्रीत के बंधन 13 मई को मोहन चित्र मंदिर MCM बैढ़न में
Image
नदी नहाने गए लड़के की डुबने से हुई मौत-
Image
SINGER SHILPI RAJ MMS: का प्राइवेट वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है, जिसमें वो एक लड़के के साथ आपत्तिजनक हालत में दिखाई दे रही है
Image