अदाणी फाउंडेशन का एनीमिया मुक्त समाज बनाने की विशेष पहल

अदाणी फाउंडेशन का एनीमिया मुक्त समाज बनाने की विशेष पहल

जिला सिंगरौली मध्यप्रदेश से ब्यूरो चीफ विवेक पाण्डेय 

जिला सिंगरौली मध्यप्रदेश रिर्टन विश्वकाशी (RV NEWS LIVE) ब्यूरो न्यूज़//आज अदाणी फाउंडेशन द्वारा महान इनर्जेन लिमिटेड के सहयोग से प्रोजेक्ट प्रभावित सिंगरौली जिला के नगवा और कर्सुआ राजा गांव स्थित सरस्वती शिशु विद्या मंदिर और शासकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में हिमोग्लोबिन जांच एवं एनीमिया जागरुकता शिविर का सफल आयोजन किया गया। इस दौरान 116 किशोरियों का निःशुल्क रक्त जाँच किया गया और उन्हें चिकित्सकीय आवश्यक सलाह दी गयीं। महान इनर्जेन लिमिटेड की मेडिकल टीम, आशा कार्यकर्ता और आंगनवाड़ी टीम की उपस्थिति में इस कार्यक्रम संचालन अदाणी फाउंडेशन और सीएसआर टीम के द्वारा किया गया। किशोरियों में माहवारी की शुरुआत होती है और पौष्टिक भोजन नहीं मिलने के कारण वो एनीमिया की शिकार हो जाती हैं। इस मौके पर एनीमिया जैसे बीमारियों की रोकथाम के लिए किशोरियों को पौष्टिक भोजन करने की सलाह दी गयी, जिससे उनके शरीर में पोषक तत्वों की कमी को दूर किया जा सके।




अदाणी फाउंडेशन द्वारा एनीमिया जागरुकता अभियान को एक मुहिम के तहत चलाया जायेगा जिसके अंतर्गत प्रथम चरण में प्रोजेक्ट से प्रभावित सभी ग्रामीण विद्यालयों में मेडिकल टीम, आशा कार्यकर्ता और आंगनवाड़ी टीम के सहयोग से किशोरियों और ग्रामीण महिलाओं के लिए रक्त जांच शिविर का आयोजन किया जायेगा।  दूसरे चरण में सभी एनिमिया ग्रसित किशोरियों और स्थानीय ग्रामीण महिलाओं को चिकित्सकीय सलाह के साथ-साथ निःशुल्क दवा का वितरण किया जायेगा। इसके साथ हीं पोषण वाटिका के माध्यम से ग्रामीण महिलाओं को बताया जायेगा कि किस तरह वो हरी सब्जियां, फलों और पत्तियों वाली सब्जियों का नियमित रूप से सेवन कर सकती हैं और पौष्टिक आहार के माध्यम से स्वस्थ रह सकती हैं।

अदाणी फाउंडेशन, महान इनर्जेन लिमिटेड के सहयोग से इस तरह के जागरूकता अभियान चलाकर एनीमिया मुक्त समाज के निर्माण में मदद करना चाहती है। इस तरह के कार्यक्रम प्रोजेक्ट प्रभावित नगवा, कर्सुआ, बंधौरा, खैराही गांवों में भी किया जायेगा ताकि काफी संख्या में स्थानीय किशोरियां और महिलाऐं लाभान्वित हो सके जिससे किशोरियों एवं महिलाओं को शारीरिक रूप से तंदुरुस्त कर समाज को मजबूत किया जा सके। आज के कार्यक्रम का संचालन अदाणी फाउंडेशन के मनोज प्रभाकर के द्वारा किया गया। इस कार्यक्रम को सफल बनाने में स्वयं सहायता समूह की महिलाएं, सी आर पी श्यामदास साह, आशा कार्यकर्ता प्रेमलता प्रमिला, सतकुमारी, विद्यालय के प्रभारी श्री रवि प्रताप सिंह, श्री फतेह बहादुर त्रिपाठी, लैब टेक्नीशियन राजपति साह और पल्लवी कुमारी की भूमिका महत्वपूर्ण रही। 

अदाणी फाउंडेशन के बारे में:

1996 में स्थापित, अदाणी फाउंडेशन वर्तमान में 18 राज्यों में सक्रिय है, जिसमें देश भर के 2250 गाँव और कस्बे शामिल हैं। फाउंडेशन के पास प्रोफेशनल लोगों की टीम है, जो नवाचार, जन भागीदारी और सहयोग की भावना के साथ काम करती है। वार्षिक रूप से 3.2 मिलियन से अधिक लोगों के जीवन को प्रभावित करते हुए अदाणी फाउंडेशन चार प्रमुख क्षेत्रों- शिक्षा, सामुदायिक स्वास्थ्य, सतत आजीविका विकास और बुनियादी ढा़ंचे के विकास, पर ध्यान केंद्रित करने के साथ सामाजिक पूंजी बनाने की दिशा में काम करता है। अदाणी फाउंडेशन ग्रामीण और शहरी समुदायों के समावेशी विकास और टिकाऊ प्रगति के लिए कार्य करता है, और इस तरह, राष्ट्र-निर्माण में अपना योगदान देता है।

Popular posts
SINGER SHILPI RAJ MMS: का प्राइवेट वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है, जिसमें वो एक लड़के के साथ आपत्तिजनक हालत में दिखाई दे रही है
Image
सिंगरौली-कुएं में गिरने से जंगली जानवर लकड़बग्घा (हड़हा) की मौत
Image
कुएं से पानी भरते समय 45 वर्षीय महिला गिरी कुएं में महिला की हुई मौत
Image
महाराष्ट्र के पालघर की घटना पर सीएम योगी ने की उद्धव ठाकरे से बात, कठोर कार्रवाई की मांग
Image
अदाणी फाउंडेशन की मदद से मशरूम की खेती कर महिलाएं आत्मनिर्भर बनने की राह पर
Image