दुर्भाग्य का विषय है तकनीक के इस युग में जब की हर तरह की जानकारी हमारे सामने है सच्चाई हमारे सामने है। तब हम हाथ पर हाथ धरे बैठे हैं- ईश्वर चंद्र त्रिपाठी (राष्ट्रीय अध्यक्ष) भारतीय रेल संघर्ष मोर्चा

दुर्भाग्य का विषय है तकनीक के इस युग में जब की हर तरह की जानकारी हमारे सामने है सच्चाई हमारे सामने है। तब हम हाथ पर हाथ धरे बैठे हैं- ईश्वर चंद्र त्रिपाठी (राष्ट्रीय अध्यक्ष) भारतीय रेल संघर्ष मोर्चा



साथियों -दुर्भाग्य का विषय है तकनीक के इस युग में जब की हर तरह की जानकारी हमारे सामने है सच्चाई हमारे सामने है। तब हम हाथ पर हाथ धरे बैठे हैं। हमारे पत्रकार विरादरी के लोग तब की भाँट विरादरी से भी गयी बीती हो गयी है। इसीलिए ना कानून है ना तंत्र हैं। राजनीति बस देश लूटने का  शड्यंत्र है। कल जो कहा गया वह बेमानी हो गया। जो कहा गया उसके उलट किया जा रहा है। पढ़े लिखे बेईमान लोग मजे मे है चाहे निजीकरण की बात हो या सरकारी संपतियों को बेचने की बात हो, सब कुछ इनको इसलिए सही लगता है क्योंकि इनको खाने को मिल रहा है। इसको इस तरह समझिये। कल तेसीलदार पैसे लेकर सरकारी जमीं किसी को भी बेंच देता था उसका पत्ता दे देता था। आज मोदी ने विभाग ही बन दिया है

 तहसीलदार की शिकायत हो जाती थी और उसके खिलाफ जाँच के बाद कानूनी कार्यवाही भी हो जाती थी। एफ आई आर भी हो जाती थी। लेकिन सरकारी संपतियों को औने पौने दामो मे सरकार का मुखिया बेंच रहा है, कही कोई हलचल नही। सावधान करना चाहता हूँ आज देश बिक रहा है देश की रेल बिक रही है। हमने यदि विरोध नही किया तो हमारी आज़ादी भी बिक जायेगी। आज़ादी कोई अलग से नही बेची जानी।

 इसलिए यदि आप समझदार है तो खड़े हो जाइये हमारे साथ। और ऐलान कीजिये की रेल तो क्या हैं इस देश की एक सुई भी नही बिकने देंगें। क्योंकि देश को हमने चलाने को दिया था रेल चलाने को दी है बेचने के लिए कदापि नहीं। भारतीय रेल संघर्ष मोर्चा देश के हर नागरिक का चाहे वह नौजवाँ हो या बुजुर्ग महिला हो या पुरुष, मजदूर हो या किसान व्यापारी हो या बुद्धमान।

ईश्वर चंद्र त्रिपाठी राष्ट्रीय अध्यक्ष भारतीय रेल संघर्ष मोर्चा  Mo. No.9425885964

रेल के निजीकरण को रद्द करने सरकारी संपतियों को बेचने का निर्णय वापस लेने के साथ सभी मेल /एक्स्प्रेस ट्रेनों को जनरल महिला विकलांग डिब्बो के साथ चलाने के अलावा सभी एक्स/ सुपर फास्ट की गयी पेसेंजर ट्रेनों को पूर्ववत चलाये जाने तथा बंद पड़ी पेसेंजर ट्रेनों को जल्द चलाने की मांग को लेकर भारतीय रेल संघर्ष मोर्चा द्वारा राष्ट्रीय अध्यक्ष माननीय ईश्वर चंद्र जी tripathi के नेतृत्व मे चलाये जा रहे देश व्यापी आंदोलन की दक्षिण के तेलंगाना राज्य से शुरुआत हो रही है। आज राष्ट्रीय अध्यक्ष tripathi जी द्वारा सीकन्दराबाद डी  आर एम को उक्त संबंध 11 बजे ज्ञापन सौंप कर उक्त संबंध में आवश्यक कार्यवाही करते हुए इसे प्रधान मंत्री तक पहुँचाने की अपील की जावेगी। 

   गौर तलब है माननीय tripathi जी तेलंगाना के मुख्य मंत्री के आमंत्रण पर 25august को हैदराबाद पहुंचे थे। और तीन दिन के गहन विचार विमर्श के बाद तेलंगाना सरकार द्वारा अपने राज्य के किसानो को फ्री पानी फ्री बिजली देने के लिए जो भागीरथी ईमानदार प्रयास  किये है, देश के सभी किसान संगठन उस को पूरे देश में लागू कराने के लिए काम करेंगे जरूरत पड़ी तो आंदोलन भी करेंगे। 

भानु प्रताप सिंह चंदेल (स्टेट प्रेसिडेंट उत्तर प्रदेश) भारतीय रेल संघर्ष मोर्चा Mo. no. 8470813900

Popular posts
सीआरपीएफ नोएडा के डीआईजी का ट्रांसफर रास बिहारी सिंह बने नए डीआईजी
Image
पैसे के लेन-देन के मामूली विवाद में कुल्हाड़ी से हमला कर एक युवक की निर्मम हत्या
Image
सिंगरौली धिरौली ब्लॉक परियोजना: सैकड़ों ग्रामीणों की उपस्थिति ने जनसुनवाई को बनाया सफल
Image
गोरबी ब्लॉक बी (एनसीएल) की जमीन पर लंबे समय से चले आ रहे अवैध अतिक्रमण को प्रशासन ने अंततः हाईकोर्ट के आदेश के बाद कराया मुक्त
Image
नाबालिक लड़की ने लगाई फांसी हुई मौत,कारण अज्ञात।
Image