महिलाओं की आजीविका के लिए कौशल विकास पर अदाणी फाउंडेशन का जोर

महिलाओं की आजीविका के लिए कौशल विकास पर अदाणी फाउंडेशन का जोर

जिला सिंगरौली मध्यप्रदेश से ब्यूरो चीफ विवेक पाण्डेय की खास

 


सिंगरौली, फरवरी 17, 2023 : माडा तहसील अंतर्गत महान इनर्जेन लिमिटेड से प्रभावित गांवों नगवा, बंधौरा, कर्सुआलाल और खैराही में जरूरतमंद महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में 'सक्षम' योजना के तहत अदाणी फाउंडेशन की तरफ से विशेष पहल किया जा रहा है। महिलाओं की आजीविका के लिए कौशल विकास और उद्यमिता कार्यक्रम के अंतर्गत अदाणी फाउंडेशन की टीम के सहयोग से महिला उद्यमी समूह 'उषा किरण' से जुड़ी महिलाएं  होम केयर क्लीनिंग प्रोडक्ट बनाकर बाजार में बेच रही हैं। होम केयर क्लीनिंग प्रोडक्ट के तहत फ्लोर क्लीनिंग, बाथ रूम क्लीनिंग के साथ साथ बर्तन और कपड़े धोने की सामग्री तैयार की जाती है। अब इन गांवों की महिलाएं आत्मनिर्भर बनकर परिवार को बेहतर जीवन के साथ नई दिशा देने का कार्य कर रही हैं।



मांग को देखते हुए इन स्थानीय महिलाओं द्वारा अब लगातार इन सामग्रियों के निर्माण का कार्य जोर पकड़ रहा है और उसे अस्पतालों, विभिन्न दफ्तरों, रेस्टोरेंट, होटलों, किराना दुकानों आदि से संपर्क कर बिक्री किया जा रहा है। इस व्यवसाय से जुड़कर हर महिला को प्रतिमाह लगभग चार हजार रुपये की आमदनी होती है। अभी तक अदाणी फाउंडेशन की मदद से कुल 35 स्थानीय महिलाओं को होम केयर क्लीनिंग प्रोडक्ट बनाने की प्रशिक्षण दिलवाई गयी है लेकिन ग्रामीणों की खुशहाली के लिए आनेवाले कुछ महीनों में 200 स्थानीय महिलाओं को इस हुनर को सिखाये जाने का लक्ष्य है। धीरे-धीरे अन्य महिलाएं भी इससे जुड़कर आत्मनिर्भर बनने लगी हैं। 

महिला उद्यमी समूह 'उषा किरण' की टीम लीडर उर्मिला जायसवाल के मुताबिक उनके पति बाहर में नौकरी करते थे और घर की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं थी। ऐसे में मनोज प्रभाकर के नेतृत्व में अदाणी फाउंडेशन की टीम ने गांव में महिलाओं को एकत्रित कर खुद का व्यवसाय शुरू करने एवं आत्मनिर्भर बनने के लिए प्रेरित किया। उन्हें होम केयर क्लीनिंग प्रोडक्ट बनाने एवं बाजार में बेचने की बात समझाई गयी। इसके बाद उन्हें अदाणी फाउंडेशन द्वारा इन प्रोडक्ट को बनाने से सम्बन्धित निःशुल्क ऑनलाइन ट्रेनिंग दिलवाई गयी और प्रोडक्ट बनाने से सम्बन्धित सामग्री उपलब्ध करवाई गयी।  उर्मिला जायसवाल कहती हैं कि "अदाणी फाउंडेशन ने व्यवसाय से महिलाओं को जोड़कर उनकी तकदीर बदलने का काम किया और आमदनी के एक से अधिक साधन होने से अब वो खुशहाल जीवन व्यतीत कर रही हैं।"

ग्रामीण महिलाओं को स्वावलंबी बना रहा अदाणी फाउंडेशन:

आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों, महिलाओं और बेरोजगारों को आत्मनिर्भर बनाने के उद्देश्य से अदाणी फाउंडेशन द्वारा समय-समय पर कई योजनाओं की शुरुआत की जाती है। जिन ग्रामीण महिलाओं में शिक्षा का अभाव है एवं कृषि कार्य से जुड़ी हैं, वैसी महिलाओं को खेतों को उपजाऊ बनाने के लिए वर्मी कम्पोस्ट खाद बनाने की तकनीक और जैविक खाद बनाने के तरीके से अवगत कराया जा रहा है। स्थानीय जरूरतमंद महिलाओं को हुनरमंद बनाने और रोजगार के अवसर पैदा करने के उद्देश्य से सिलाई प्रशिक्षण केंद्र की स्थापना की गई है। अदाणी फाउंडेशन की टीम के मदद से ग्रामीण महिलाओं को  मशरूम का उत्पादन, धूपबत्ती, अगरबत्ती एवं संब्रानी कप बनाने जैसी ट्रेनिंग दी जा रही है।

Popular posts
SINGER SHILPI RAJ MMS: का प्राइवेट वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है, जिसमें वो एक लड़के के साथ आपत्तिजनक हालत में दिखाई दे रही है
Image
सिंगरौली-कुएं में गिरने से जंगली जानवर लकड़बग्घा (हड़हा) की मौत
Image
कुएं से पानी भरते समय 45 वर्षीय महिला गिरी कुएं में महिला की हुई मौत
Image
अदाणी फाउंडेशन की मदद से मशरूम की खेती कर महिलाएं आत्मनिर्भर बनने की राह पर
Image
अदाणी फाउंडेशन के सहयोग से सिक्की कला ने खोली रोजगार की राह,सिक्की आर्ट के मशहूर कलाकार दिलीप कुमार के द्वारा दिया जा रहा है प्रशिक्षण
Image