अदाणी फाउंडेशन द्वारा जरूरतमंद परिवार के बच्चों के लिए छात्रवृत्ति योजना की सौगात

अदाणी फाउंडेशन द्वारा जरूरतमंद परिवार के बच्चों के लिए छात्रवृत्ति योजना की सौगात

जिला सिंगरौली मध्यप्रदेश से ब्यूरो चीफ विवेक पाण्डेय की खास रिपोर्ट 



सिंगरौली, अक्टूबर 06, 2023: सरई तहसील अन्तर्गत धिरौली एवं सुलियरी परियोजना से प्रभावित गांवों के जरूरतमंद और होनहार बच्चे अब उच्च शिक्षा से वंचित नहीं रह सकेंगे। ऐसे बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए शुक्रवार को अदाणी फाउंडेशन के द्वारा 'एकलव्य' छात्रवृत्ति योजना का शुभारम्भ किया गया। जो परिवार पैसों के अभाव में अपने बच्चों को उच्च शिक्षा दिलाने में अक्षम रहते थे, उनके लिए  'एकलव्य' छात्रवृत्ति योजना मील का पत्थर साबित होगी एवं प्रतिभाशाली बच्चों को आगे बढ़ने में मदद मिलेगी जिससे उनका सामाजिक और आर्थिक विकास होगा।  



इस योजना का शुभारंभ देवसर के एसडीएम श्री अखिलेश कुमार सिंह, अदाणी ग्रुप की तरफ से श्री पवन कुमार सोमानी ( चीफ ऑफ माइन डेवलपमेंट), श्री बच्चा प्रसाद  ( क्लस्टर हेड, सिंगरौली) , श्री विकास सिंह ( एचआर क्लस्टर हेड) ,श्री राजकिशोर सिंह (साईट हेड, धिरौली) ,श्री विकास ठाकरे (साईट हेड, सुलियरी) की उपस्थिति में हरी झंडी दिखा कर किया गया। 

खनन परियोजना से प्रभावित करीब 14 गांवों झलरी, धिरौली, ;फाटपानी, अमरईखोह, बेलवार, डोंगरी, मझौलीपाठ, सिरसवाह, बजौड़ी, खनुआ खास, खनुआ नया, जत्था टोला, आमडांड, एवं बासी बेरदहा के होनहार और जरूरतमंद बच्चों  को उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए प्रोत्साहन एवं वित्तीय सहायता की जरूरत है। आज उच्च शिक्षा पहले से कहीं अधिक महंगी है जिससे छात्रों को अपने पसंद के पाठ्यक्रम और कॉलेजों को वहन करना काफी मुश्किल हो रहा है और वो पीछे रह जाते हैं। ऐसे में अदाणी फाउंडेशन के द्वारा स्थानीय प्रतिभाशाली बच्चों को छात्रवृत्ति देकर वित्तीय मदद देने की शुरुआत की गयी है ताकि उन्हें उच्च शिक्षा का खर्च वहन करने में वित्तीय चुनौतियों का सामना नहीं करना पड़े। 

अदाणी फाउंडेशन द्वारा 'एकलव्य' छात्रवृत्ति योजना के अन्तर्गत योग्य छात्रों को रोजगारोन्मुखी पाठ्यक्रम के लिए वित्तीय सहायता मिलेगी और पाठ्यक्रम शुल्क सीधे कॉलेज या संस्थान को जमा किया जायेगा। जबकि लघु अवधि पाठ्यक्रम (6 मासिक)  के लिए रु. 15,000 , आईटीआई/पॉलिटेक्निक पाठ्यक्रम के लिए रु. 20,000, डिप्लोमा पाठ्यक्रम के लिए रु. 25,000 और पोस्ट ग्रेजुएशन/प्रोफेशनल पाठ्यक्रम के लिए रु. 50,000 की मदद मिलेगी। इसके अतिरिक्त यदि कोई छात्र किसी कॉलेज या संस्थान के छात्रावास में रहता है तो छात्रावास शुल्क के रूप में 1000 रुपये प्रति माह कॉलेज/छात्रावास को भी प्रदान किए जाएंगे। आसपास के गांवों में अदाणी फाउंडेशन द्वारा कॉर्पोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व के तहत स्वरोजगार, स्वास्थ्य और शिक्षण के लिए कई कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं।

Popular posts
SINGER SHILPI RAJ MMS: का प्राइवेट वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है, जिसमें वो एक लड़के के साथ आपत्तिजनक हालत में दिखाई दे रही है
Image
सिंगरौली-कुएं में गिरने से जंगली जानवर लकड़बग्घा (हड़हा) की मौत
Image
अदाणी फाउंडेशन की मदद से मशरूम की खेती कर महिलाएं आत्मनिर्भर बनने की राह पर
Image
कुएं से पानी भरते समय 45 वर्षीय महिला गिरी कुएं में महिला की हुई मौत
Image